If you want to please mother in Navratri, do not do this work

-सीमा कुमारी 

नवरात्रि हिन्दुओं का प्रमुख त्यौहार है. इस त्यौहार पर देवी पूजन और नौ दिन के व्रत का बड़ा महत्व होता है. नौ दिनों तक भक्त पूरी श्रद्धा और विश्वास के साथ माँ दुर्गा का व्रत रखते है. मां दुर्गा का आशीर्वाद ग्रहण करने के लिए ये दिन बहुत महत्वपूर्ण माने जाते हैं. नवरात्रि के दिनों में भक्तजनो को कुछ नियमों का पालन करना बहुत जरुरी होता है. नवरात्रि के दौरान माता के भक्तो को कुछ बातों का विशेष ध्यान रखना भी बहुत जरूरी है.  चलिए जानते है वो कौन सी बाते है जिसे ध्यान रखना जरुरी है.

रोजाना मंदिर जरूर जाएं:

सुबह जल्दी उठे और स्नान कर साफ-सुथरे वस्त्र पहन कर माँ दुर्गा की पूजा करे. नवरात्रि में रोजाना मंदिर जाकर माँ दुर्गा का ध्यान करने से मन को शांति मिलती है. सभी मनोकामनाएं भी पूरी होती है.  

16 श्रृंगार करना जरूरी है:

मां दुर्गा का चोला, फूलों की माला, हार और नए कपड़ों सहित 16 श्रृगांर करना ना भूलें. वहीं, महिलाओं को भी नवरात्रि के दिनों में 16 श्रृगांर करना चाहिए.

माता की अखंड ज्योति जलाना:

नवरात्रि के दिन में सुबह-शाम ज्योत जलाएं और दुर्गा चालीसा का पाठ करे. ध्यान रखें कि नवरात्रि के दिनों में अपने घर में और लॉकर में ताला ना लगाएं.

देवी को जल अर्पित करना न भूले:

माँ दुर्गा के मंदिर में आपने जो कलश स्थापित किया है, उसे रोजाना बदलें. कलश के जल को आप किसी भी पौधे में डाल सकते हैं.

नवरात्र के दिनों में नहीं करने चाहिए ये काम:          

  • नवरात्र में सभी स्त्री -पुरुष को  ब्रह्मचर्य का पालन करना चाहिए. चाहे व्रत नहीं भी रखा है तो भी हर किसी को ब्रह्मचर्य का पालन करना चाहिए.
  • नवरात्र में शुद्ध आहार ले  और प्याज, लहसुन का भी सेवन नहीं करना चाहिए. शराब, मांस आदि का सेवन बर्जित होता है.
  • इन दिनों में काले और नीले रंग के पोषाक नहीं पहनने चाहिए. साथ ही चमड़े की चीजें भी बर्जित होता है
  • दाढ़ी-मूंछ, बाल, नाखून काटने से करे परहेज. खासकर जिन लोगों ने व्रत रखा हो.
  • मासिक धर्म में पूजन वर्जित माना जाता है इसलिए इस दौरान पूजा ना करें.
  • जो लोग व्रत रख रहे हैं, उन्हें दिन में सोना नहीं चाहिए  माना जाता है कि इससे घर में बरकत नहीं आती.
  • नो दिन तक सात्विक भोजन करे .