Tokyo Olympic : Uzbekistan man arrested for alleged rape at Tokyo Olympic Stadium
File

    टोक्यो: भारतीय खिलाड़ियों ने महामारी के बीच आयोजित किये जा रहे ओलंपिक खेलों में देशवासियों की उम्मीदों पर खरा उतरने के लिये सोमवार से अभ्यास शुरू कर दिया। भारतीय खिलाड़ियों का पहला जत्था कोविड-19 से जुड़ी औपचारिकताएं पूरी करने के बाद रविवार की सुबह खेल गांव पहुंचा था। तीरंदाज दीपिका कुमारी और अतनु दास, टेबल टेनिस के खिलाड़ी जी साथियान और अचंता शरत कमल, बैडमिंटन खिलाड़ी पी वी सिंधू और बी साई प्रणीत तथा भारत का प्रतिनिधित्व कर रही एकमात्र जिम्नास्ट प्रणति नायक ने सोमवार को अभ्यास शुरू कर दिया।

    तीरंदाजी युगल अतनु और दीपिका ने सुबह युमेनोशिमा पार्क में अभ्यास किया जबकि साथियान और शरत कमल ने भी ओलंपिक पदक जीतकर इतिहास रचने के लिये तैयारियां शुरू की। जिम्नास्ट प्रणति ने भी कोच लक्ष्मण मनोहर शर्मा की देखकर में आज सुबह अभ्यास शुरू कर दिया। बैडमिंटन खिलाड़ी सिंधू और प्रणीत ने एक ही कोच पार्क ताइ सुंग की देखरेख में अभ्यास किया जबकि चिराग शेट्टी और सात्विकसाइराज रंकीरेड्डी की युगल जोड़ी अपने कोच मैथियास बो के साथ कोर्ट पर पहुंची। 

    वी सरवनन सहित नौकायन दल के खिलाड़ियों ने रविवार से ही अभ्यास शुरू कर दिया था। सरवनन (पुरुष लेजर वर्ग) के अलावा नेत्र कुमानन, केसी गणपति और वरुण ठक्कर सभी पिछले सप्ताह यहां पहुंच गये थे। वे तोक्यो खेलों में नौकायन स्पर्धा में देश का प्रतिनिधित्व करेंगे। शनिवार को तोक्यो पहुंचने वाले रोवर्स अर्जुन लाल जाट और अरविंद सिंह ने भी मुख्य राष्ट्रीय कोच इस्माइल बेग की देखरेख में रविवार को सी फोरेस्ट वाटरवे में अपने पहले अभ्यास सत्र में भाग लिया। 

    ये दोनों पुरुषों की लाइटवेट डबल स्कल्स में प्रतिस्पर्धा करेंगे। भारत का 15 सदस्यीय निशानेबाजी दल भी सोमवार को शूटिंग रेज पर गया। आयोजन समिति ने पहले जो दिशानिर्देश तय किये थे उनके अनुसार भारत से जाने वाले खिलाड़ियों को तीन दिन के अनिवार्य पृथकवास पर रहना था लेकिन बाद में इसे हटा दिया गया जिससे खिलाड़ियों को बड़ी राहत मिली। (एजेंसी)