File Photo
File Photo

    -विनय कुमार 

    ऑस्ट्रेलिया के पूर्व ‘चाइनामैन’ ब्रैड हॉग (Chinaman Brad Hogg) ने इंग्लैंड के खिलाफ भारत की 5 मैचों की टेस्ट सीरीज (IND vs ENG Test Series 2021) को लेकर गौर फरमाने वाला बयान दिया है, जो सीरीज ICC WTC 2021-23 के तहत आएगी। ब्रैड हॉग ने कहा कि टीम इंडिया को अपने शुरुआती मैचों में जीत दर्ज करनी होगी, ताकि अगले WTC के सीज़न के खिताबी मुकाबले तक जा सके। हॉग ने कहा कि ऑस्ट्रेलिया (Australia), न्यूजीलैंड (New Zealand), श्रीलंका (Sri Lanka) की मेजबानी भारत करेगा जिसका फिर से भारत को लाभ मिलेगा।

    ब्रैड हॉग ने कहा कि भारत की टीम अपने होम ग्राउंड के बाहर साउथ अफ्रीका, इंग्लैंड और बांग्लादेश के खिलाफ खेलती नजर आएगी, जहां उसे ज्यादा कोशिश करनी पड़ेगी। भारत  के लिए इंग्लैंड के ताज़ा दौरे में इंग्लैंड के खिलाफ हावी होना कठिन रहेगा। खासकर जोफ्रा आर्चर (Jofra Archer) और जेम्स एंडरसन (James Anderson) जैसे गेंदबाजों को भेद पाना आसान नहीं होगा।

    उन्होंने आगे कहा कि, वहीं दूसरी तरफ इंग्लैंड के लिए भी ICC WTC 2021-23 के फाइनल में पहुंचना और भी कठिन है। क्योंकि, वह भारत (India), न्यूजीलैंड (New Zealand) और साउथ अफ्रीका (South Africa) की मेजबानी करेंगे, जो सभी के सभी मजबूत टीम हैं। इंग्लैंड की टीम ऑस्ट्रेलिया, (Australia), वेस्ट इंडीज (West Indies) और पाकिस्तान (Pakistan) के खिलाफ सीरीज के लिए उन देशों का दौरा भी करेगी। ब्रैड हॉग ने जोर देकर कहा कि भारत और ऑस्ट्रेलिया (Ashes Trophy) के अपने दौरे में इंग्लैंड क्रिकेट टीम की संभावना कुछ कम रहेगी।

    उन्होंने कहा, “इंग्लैंड भारत के खिलाफ खेलेगा, और मुझे लगता है कि यही उनके भाग्य का फैसला करेगा कि वे दो साल बाद ICC WTC फाइनल (2023) खेलेंगे या नहीं। अगर वे (England) भारत पर हावी हो जाएं और 5 टेस्ट मैचों में से 4 जीत सकते हैं, या तो एक मैच ड्रॉ हो जाए और भारत को सीरीज का एक भी मैच जीतने ना दे, तो फिर इंग्लैंड के लिए WTC फाइनल की राह आसान होगी। फिर, इंग्लैंड को ‘ICC WTC FINAL 2023’ में पहुंचने के लिए ऑस्ट्रेलिया को अपने होम ग्राउंड पर कम से कम 2 बार हराना होगा।”