dont-get-carried-away-with-pace-friendly-wickets-in-australia-kapil-dev-to-indian-bowlers
File Photo

टीम में उमेश यादव, मोहम्मद सिराज और नवदीप सैनी के रूप में शानदार विकल्प मौजूद है।

कोलकाता. दिग्गज भारतीय हरफनमौला खिलाड़ी कपिल देव (Kapil Dev) ने मंगलवार भारतीय तेज गेंदबाजों को उनके मजबूत पक्ष के मुताबिक गेंदबाजी करने की सलाह देते हुए कहा कि गुरुवार से शुरु हो रही चार मैचों की टेस्ट श्रृंखला (Test Match) में उछाल लेती पिचों को देखकर उत्तेजित ना हो और अपनी ताकत से गेंदबाजी करें। अनुभवी ईशांत शर्मा (Ishant Sharma) की अनुपस्थिति में भी, भारत टीम (India) के पास जसप्रीत बुमराह (Jasprit Bumrah) और मोहम्मद शमी (Mohammed Shami) के नेतृत्व में खतरनाक तेज गेंदबाजी आक्रमण है।

टीम में उमेश यादव, मोहम्मद सिराज और नवदीप सैनी के रूप में शानदार विकल्प मौजूद है। इस पूर्व दिग्गज का मानना है कि भारतीय गेंदबाजों के पास अब भी ऑस्ट्रेलियाई (Australia) पिचों पर गेंदबाजी का अनुभव नहीं है। कपिल (Kapil Dev) ने यहां भारतीय चैंबर ऑफ कॉमर्स द्वारा आयोजित एक ऑनलाईन सत्र में कहा,‘‘हमारे तेज गेंदबाजों को ऑस्ट्रेलिया के पिचों पर गेंदबाजी का अनुभव नहीं है। कई बार वह उछाल देख कर उत्तेजित हो जाते हैं। यह समझना काफी जरूरी है कि उन्हें अपनी ताकत से गेंदबाजी करनी चाहिये।”

भारत (India) के लिए 131 टेस्ट में 434 विकेट लेने वाले पूर्व महान खिलाड़ी ने कहा,‘‘हमारे पास शानदार तेज गेंदबाज है, लेकिन ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी वहां की परिस्थितियों को हमारे गेंदबाजों की तुलना में बेहतर समझते हैं।” भारत को 1983 में विश्व विजेता बनाने वाले इस पूर्व कप्तान ने कहा कि दिन-रात्रि प्रारूप में खेले जाने वाले श्रृंखला के पहले टेस्ट में ऑस्ट्रेलिया का पलड़ा भारी रहेगा।

उन्होने कहा, ‘‘जाहिर है इस टेस्ट (एडीलेड) में ऑस्ट्रेलिया का पलड़ा भारी रहेगा। वे अपने घर में खेल रहे है। अगर भारतीय टीम गुलाबी गेंद से भारत में खेलती तो मैं कहता कि भारत के जीतने की संभावना 80 प्रतिशत है। वैसे भी ऑस्ट्रेलिया के पास गुलाबी गेंद से कई मैच खेलने का अनुभव है जबकि भारतीय टीम ने सिर्फ एक टेस्ट दूधिया रोशनी में खेला है।”