जम्मू-कश्मीर : उपराज्यपाल मनोज सिन्हा ने कहां, ‘शिक्षण संस्थानों को फिर से खोलने के लिए 18 साल से ऊपर के विद्यार्थियों का प्राथमिकता से हो टीकाकरण’

    श्रीनगर: जम्मू-कश्मीर के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा ने शनिवार को कहा कि केंद्र शासित प्रदेश में शैक्षणिक संस्थानों को दोबारा खोलने के लिए 18 साल से अधिक उम्र के विद्यार्थियों को प्राथमिकता के आधार पर टीका लगाने के लिए विशेष अभियान शुरू किया जाएगा। यहां शेर-ए-कश्मीर अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन केंद्र (एसकेआईसीसी) में एक कार्यक्रम से इतर संवाददाताओं से बातचीत में सिन्हा ने कहा कि ज्यादातर शैक्षणिक कर्मचारियों को पहले ही टीका लग चुका है। 

    उन्होंने कहा, “हम संस्थानों को फिर से खोलने के लक्ष्य के साथ प्राथमिकता के आधार पर 18 वर्ष से अधिक आयु के विद्यार्थियों और शैक्षणिक संस्थानों में प्राध्यापकों एवं शिक्षकों के टीकाकरण का प्रयास कर रहे हैं।” सिन्हा ने कहा कि 18 वर्ष से अधिक उम्र के विद्यार्थियों के टीकाकरण के लिए विशेष अभियान चलाया जाएगा क्योंकि अधिकतर शिक्षकों को पहले ही टीका लग चुका है। 

    जम्मू-कश्मीर में सुरक्षा स्थिति के बारे में पूछे जाने पर उपराज्यपाल ने ज्यादा टिप्पणी किए बिना कहा कि “सब ठीक है।” इससे पहले, सिन्हा ने एसकेआईसीसी में “ केंद्र शासित क्षेत्र जम्मू कश्मीर और लद्दाख की प्रमाणन रिपोर्ट का विश्लेषण” शीर्षक वाली पुस्तक का विमोचन किया। (एजेंसी)