File Photo
File Photo

    • महिलाओं, युवतियों ने लूटी सावन के झूलों की खुशियां

    अकोला. राजस्थानी समाज में महिलाओं के सौभाग्य का प्रतीक माना जानेवाला सावन का तीज पर्व रविवार को यहां रानी सती धाम में महिलाओं और युवतियों की उत्साहजनक प्रतिसाद और अग्रवाल महिला मंडल तथा रानी सती महिला मंडल द्वारा उत्कृष्ट योजना के साथ मनाया गया.

    रविवार शाम 4 बजे रानी सती धाम में गणमान्य व्यक्तियों द्वारा इस तीज उत्सव की शुरुआत की गई. इस अवसर पर त्योहार की पारंपरिक वेशभूषा में महिलाओं के घूमर नृत्य ने उपस्थित लोगों का ध्यान आकर्षित किया. इसके साथ ही भक्ति नृत्य, संगीत कुर्सी आदि सहित महिलाओं, लड़कियों के लिए विभिन्न खेलों और प्रतियोगिताओं का आयोजन किया गया. इस अवसर पर भावना अग्रवाल ने सावन के गीत और नृत्य आदि की प्रस्तुति दी. अन्य महिलाओं ने भी विभिन्न खेलों में भाग लिया. 

    महिलाओं और युवतियों ने लिया सामूहिक रूप से झूलों का आनंद

    रानी सती धाम क्षेत्र में विशेष रूप से श्रवणोत्सवम के लिए लगाए गए झूलों का महिलाओं और युवतियों ने सामूहिक रूप से आनंद लिया. इस तीज उत्सव के लिए रानी सती धाम के अध्यक्ष जगदीश बाछुका की अध्यक्षता और अग्रवाल महिला मंडल के अध्यक्ष कृष्णा पाड़िया, धाम के नवीन झुनझुनवाला, प्रमोद झुनझुनवाला, लक्ष्मीकांत पाड़िया तथा उत्सव की महिलाओं ने नियोजन किया था. इसमें सभी राजस्थानी समुदायों की महिलाओं ने भाग लिया. 

    उत्सव के लिए पहल की

    इस उत्सव के लिए शोभा गोयनका, निर्मला बंसल, उषा अग्रवाल, श्यामलता सोनालावाला, मंजूश्री झुनझुनवाला, मंजू अग्रवाल, सुरभि लोहिया, किरण अग्रवाल, शकुंतला गोयनका, चंदा तिवारी, किरण अग्रवाल, किरण शर्मा, कनक, निर्मला पंडित, ममता अग्रवाल, संगीता अग्रवाल, मालती साहू, कविता अग्रवाल, स्मिता केजरीवाल, सविता अग्रवाल, वर्षा केजरीवाल, संगीता केजरीवाल, सरिता अग्रवाल, सरला अग्रवाल, शीतल अग्रवाल, संतोष केड़िया, सुनीता सोनालावाला, वंदना अग्रवाल आदि ने पहल की थी.