File Photo
File Photo

    अमरावती. घर में पानी घुस जाने से हुए नुकसान के लिए सरकार ने मदद का ऐलान किया है. पिछले महीने हुई अतिवृष्टि से प्रभावित परिवारों को कपड़े, बर्तन और घरेलू सामान के नुकसान के लिए सहायता प्रदान करने का निर्णय लिया गया है. फसल व मकान क्षति के साथ अब कपड़े व बर्तन के नुकसान के लिए प्रति परिवार 5000 रुपए की सहायता स्वतंत्र रूप से दी जा रही है. इस तरह राज्य सरकार ने अतिवृष्टि प्रभावित जिलों के लिए 46 करोड़ 58 लाख 33 हजार रुपये वितरित करने की मंजूरी दी है.

    फसल नुकसान का पंचनामा पूर्ण

    अतिवृष्टि से हुए खेती व फसल नुकसान के पंचनामा की प्रक्रिया भी लगभग पूर्ण होने की जानकारी पालकमंत्री एड.यशोमति ठाकुर ने दी है. नुकसान के बाद उन्होंने गांव गांव जाकर नुकसान का निरीक्षण किया था और पंचनामा प्रक्रिया यथाशीघ्र पूर्ण करने के निर्देश दिए थे. इसके बाद भी शासनस्तर मुआवजा मंजूर करने भी प्रयास किया. 

    कोई वंचित ना रहे

    मुआवजे की रकम पीडित के खाते में तत्काल जमा करने के साथ सहायता निधि वितरण प्रक्रिया के बाद लाभार्थियों की सूची व राहत का ब्यौरा जिला वेबसाईट पर अपलोड करने की सूचना भी जिला प्रशासन को दी गई है. कोई लाभार्थी वंचित ना रहे है इसका बारीकी से ध्यान रखने की हिदायत भी दी गई है.

    संभाग में हजारों आशियाने उजड़े

    संभाग के पांच जिलों में बारिश के कहर ने हजारों घरों को नुकसान पहुंचाया है. इनमें 314 कच्चे और पक्के मकान पूरी तरह धराशाही हुए है. जबकि 1234 पक्के तथा 4033 कच्चे मकान अंशत: क्षतिग्रस्त हुए है. इसके अलावा 10 झोपडियां तथा 29 तबेलों का भी नुकसान हुआ है. इन पीडितों को अब राहत मिलेगी.