maharashtra election
Representative Photo

    भंडारा. भंडारा जिले में 7 पंचायत समिति एवं 3 नगर पंचायत के लिए भी चुनाव हुआ. जिसमें पंचायत समिति चुनाव में भाजपा एवं कांग्रेस के बीच कांटे के टक्कर देखने मिली. वहीं मोहाडी एवं लाखांदुर में प्रत्येकी 17 में से भाजपा ने 9-9 सीट जीतकर सत्ता हासिल की. वहीं लाखनी में सबसे बडी पार्टी के रूप में राकां ने 8 सीटें हासिल की. उसे सत्ता काबीज करने के लिए कांग्रेस एवं निर्दलीय की सहायता लगेगी.

    पंचायत समिति में साकोली में कांग्रेस एवं मोहाडी में भाजपा को स्पष्ट बहुमत : बाकियों में जोडजंतर 

    भंडारा जिले में सभी 7 पंचायत समितियां यानी भंडारा, मोहाडी, साकोली, लाखनी, भंडारा, पवनी एवं लाखांदुर पंचायत समितियों में कुल 104 सीटें है. इन चुनाव में साकोली पंस में कुल 12 में से 9 सीटें जीतकर कांग्रेस ने निर्विवाद रूप से सत्ता हासिल की. इसके पश्चात मोहाडी में कुल 14 सीटों में से 8 सीट प्राप्त कर भाजपा ने सत्ता हासिल की. लेकिन शेष 5 पंचायत समितियों में किसी भी पार्टी को स्पष्ट बहुमत नहीं मिला. भंडारा पंचायत समिति में सबसे बडा दल के रूप में भाजपा ने 7 सीटें हासिल की है. लेकिन यहां जादुई आंकडा 11 का है. ऐेसे में 4 सीटेंवाली कांग्रेस एवं 6 सीटेंवाली राकां को अगर सेना एवं 2 निर्दलीय का साथ मिलता है तो वह सत्ता में आ सकती है.

    तुमसर पंचायत समिति में 9 सदस्योंवाली भाजपा के लिए सत्ता की राह आसान नहीं है. क्योंकि यहां केवल 1 निर्दलीय है. वहीं कांग्रेस 3 एवं राकां के 7 सदस्यों को 1 निर्दलीय का साथ मिलता है तो 11 बहुमत का आंकडा जुटाया जा सकता है.

    लाखांदुर में 12 सीटें है. यहां कांग्रेस के 5, राकां के 2 सदस्य है. वहीं भाजपा के 5 सदस्य है. राकां किंगमेकर रहेगी. संभावना जताई जा रही है कि नाना के गृहक्षेत्र में राकां भाजपा के साथ जा सकती है.

    लाखनी में कुल 12 सीटें है. यहां सबसे बडी पार्टी कांग्रेस के पास 6 सदस्य है. उसे 1 निर्दलीय को साथ मिले तो वह सत्ता में आएगी यहां भाजपा के पास में 5 सीटें है. उसे सत्ता में आने का कोई चान्स नहीं है.

    साकोली पंचायत समिति में कुल 12 सीटें है. यहां भाजपा के पास में 9 सीटें है. यानी मतलब साफ है कि सत्ता की डोर भाजपा के हाथ में होगी. यहां राकां एवं कांग्रेस को कोई सफलता नहीं मिली. शेष तीनों सदस्य निर्दलीय है.

    पवनी पंचायत समिति में कुल सदस्य 14 है. कांग्रेस सबसे बडी पार्टी है. उसके पास में 6 सदस्य है. वहीं भाजपा के 1, बसपा 1, राकां के 3 एवं शिवसेना के 3 सदस्य है. सामान्य तौर पर कांग्रेस एवं राकां आकर सत्ता बना सकती है. लेकिन संभवना है कि कांग्रेस यह राकां की बजाए शिवसेना के साथ मिलकर सत्ता बना सकती है. या फिर यहां पर महाआघाडी फार्मूला चल सकता है, जिसमें तीन पार्टियां मिलकर सत्ता बनाएगी. 

    नगर पंचायत में मोहाडी एवं लाखांदुर में भाजपा 

    नगर पंचायत चुनाव में परिणाम से साफ है कि मोहाडी एवं लाखांदुर में भाजपा की सत्ता बनने जा रही है. लाखनी में स्थिति थोडी अस्पष्ट है. लेकिन आंकडे राकां के पक्ष में जा रहे है. 17 सदस्यीय सदन में जादुई आंकडा 9 होगा. यहां कांग्रेस के पास में 8 नगरसेवक है. उसके 1 निदर्लीय या कांग्रेस के 2 सदस्यों को समर्थन प्राप्त करने में मुश्किल नहीं होगी.