भिवंडी : कांग्रेस के 16 बागी नगरसेवक NCP में शामिल

  • महापौर चुनाव में कांग्रेस प्रत्याशी के खिलाफ किया था मतदान
  • कोंकण आयुक्त के समक्ष नगरसेवक पद रद्द किए जाने की याचिका प्रलंबित

भिवंडी. 5 दिसंबर 2019 को भिवंडी मनपा महापौर चुनाव (Bhiwandi Municipal Corporation Mayor Election) में कांग्रेस प्रत्याशी ऋषिका राका के खिलाफ मतदान कर कोर्णाक विकास आघाड़ी प्रत्याशी प्रतिभा विलास पाटिल के पक्ष में मतदान करने वाले 18 बागी नगरसेवकों में से 16 नगरसेवकों ने कांग्रेस पार्टी छोड़कर राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (NCP) का दामन थाम लिया है।

मुंबई एनसीपी कार्यालय में उपमुख्यमंत्री अजीत पवार (Deputy Chief Minister Ajit Pawar), राकांपा प्रदेश अध्यक्ष जयंत पाटिल (NCP state president Jayant Patil), सांसद सुप्रिया सुले (MP Supriya Sule),  कैबिनेट मंत्री छगन भुजबल (Cabinet Minister Chhagan Bhujbal), गृह निर्माण मंत्री जितेंद्र आव्हाड (Jitendra Awhad की प्रमुख मौजूदगी में कांग्रेस के बागी 16 नगरसेवक राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (NCP) में शामिल हो गए। कांग्रेस के 16 बागी नगरसेवकों द्वारा राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (NCP) का दामन थाम लेने से भिवंडी शहर में कांग्रेस पार्टी कमजोर एवं राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (NCP) बेहद मजबूत हो गई है। अप्रत्याशित तरीके से 16 बागी नगरसेवकों के एनसीपी में शामिल होने से इन नगरसेवकों के ऊपर मनपा सदस्यता रद्द होने का संभावित खतरा लगभग टल गया है।

गौरतलब है कि भिवंडी-निजामपुर शहर महानगरपालिका के लिए 5 दिसंबर 2019 को महापौर चुनाव हुआ था। चुनाव में कांग्रेस को मनपा में पूर्ण बहुमत होने के बावजूद कांग्रेस पार्टी के 18 नगरसेवकों ने पार्टी के आदेश (व्हिप) का उल्लंघन करते हुए कोणार्क विकास आघाड़ी के उम्मीदवार को मतदान करके महापौर बनाया। महापौर चुनाव में कांग्रेस पार्टी की करारी हार हुई थी, जिससे कांग्रेस पार्टी की पूरे प्रदेश में काफी बदनामी हुई। उक्त सदमे से कांग्रेस पार्टी आज तक उबर नहीं पाई है। मनपा महापौर चुनाव में कांग्रेस पार्टी के व्हिप का उल्लंघन कर कांग्रेस प्रत्याशी ऋषिका प्रदीप राका के खिलाफ कोणार्क विकास आघाड़ी प्रत्याशी प्रतिभा विलास पाटिल को मतदान कर महापौर चुने जाने में कांग्रेस के 18 बागी नगरसेवको ने अहम भूमिका निभाई थी। महापौर चुनाव में करारी हार के उपरांत कांग्रेस पार्टी के पूर्व महापौर जावेद दलवी द्वारा कोंकण आयुक्त के समक्ष कांग्रेस के बागी 18 नगरसेवकों की सदस्यता रद्द किए जाने की याचिका प्रलंबित है।

कांग्रेस से बगावत कर NCP में शामिल होने वाले 16 नगरसेवक

  1.  हुस्ना परवीन याकूब
  2.  अरशद फरिस्ते
  3.  मलिक मोमिन
  4.  अहमद सिद्दीकी
  5.  अंजुम अहमद सिद्दीकी
  6.  मतलूब सरदार
  7.  याकूब शेख
  8.  राबिया दानिश अंसारी
  9.  तफज्जुल अंसारी
  10.  नसरुल्ला उर्फ बहत्तर
  11.  रईस कानपुरी
  12.  समीना शाहिद अंसारी
  13.  नमरा औरंगजेब अंसारी
  14. शबनम महबूब अंसारी
  15.  जरीना तवाब अंसारी
  16. शिफा असफाक आदि कांग्रेसी नगरसेवकों का समावेश है।

 

दो और नगरसेवकों के भी जल्द NCP में शामिल होने की अटकलें

कांग्रेस के 18 बागी नगरसेवकों में से 16 नगरसेवकों ने राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (NCP) का दामन थाम लिया है, बावजूद कांग्रेस के 2 बागी नगरसेवक मनपा उपमहापौर इमरान खान व नगरसेवक मिस्बा इमरान खान शेष रह गए हैं। राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (NCP) सूत्रों की मानें तो उक्त दोनों नगरसेवक भी जल्द ही एनसीपी में शामिल हो सकते हैं।

राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी में जश्न

16 कांग्रेसी नगरसेवकों के राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (NCP) में शामिल होने से भिवंडी राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी में जश्न का माहौल है। राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (NCP) भिवंडी जिलाध्यक्ष भगवान टावरे, महासचिव एड। सुनील पाटिल, वरिष्ठ राकांपा नेता एड। यासीन मोमिन, अनिल फड़तरे, प्रवीण पाटिल, राकांपा महिलाध्यक्षा स्वाति काम्बले आदि नें पार्टी में शामिल नगरसेवकों का अभिनन्दन किया है।