चंद्रपुर जिले के कृषि पंप को दिन में 8 घंटे में बिजली आपूर्ति करे

    • सांसद व विधायक धानोरकर दम्पत्ती की उर्जामंत्री राऊत से मांग 

    चंद्रपुर. जिले के बिजली आपूर्ति संदर्भ में चंद्रपुर के सांसद बालु धानोरकर व विधायक प्रतिभा धानोरकर ने मुंबई के महावितरण के फोर्ट के कार्यालय में बैठक का आयोजन किया था. इस समय सांसद व विधायक धानोरकर दम्पत्ती ने उर्जामंत्री डा. नितीन राऊत से चंद्रपुर जिले के कृषिपम्प को दिन में 8 घंटे बिजली आपूर्ति करने की मांग की है. 

    विधायक धानोरकर ने इस समय कहां की चंद्रपुर जिले का ताडोबा जंगल व आसपास के परिसर के किसानों को खेतों में पानी देने के लिए सुबह जाना पडता है. रात के समय वन्यप्राणियों के भय के कारण वह रात के समय खेतों में पानी देने के लिए जा सकते. रात के समय खेतों में जाना खतरे से खाली नही है. 

    इस संदर्भ में दिन में 8 घंटो बिजली आपूर्ति करनेपर तकनिकी बातों का निरिक्षण करे. दिन में बिजली आपूर्ति करने से महावितरण पर अतिरिक्त आर्थिक भार निर्माण हो रहा हो तो वैसा नही होने के लिए जिला विकास योजना से वह खर्च प्राप्त कर ले अथवा इसी तरिके से अन्य पर्यायों की जांच करने निर्देश उर्जामंत्री डा. नितीन राऊत ने दिए है. 

    नक्षलग्रस्त चंद्रपुर जिले के कृषिपंम्प को दिन में 8 घंटे बिजली आपूर्ति करने पर बिजली खरेदी के लिए अतिरिक्त डेढ करोड रूपयों का बोजा पडनेवाला है. इसके लिए जिले की जिला विकास योजना से नीधि प्राप्त होने पर दिन में बिजली आपूर्ति करना मुक्कीन होगा ऐसी जानकारी डा. राऊत ने दी. इसका विधायक धानोरकर ने स्वागत किया. 

    दुर्गम क्षेत्र में रहनेवाले ग्राहकों का तकनिकी कारणों से बिजली आपूर्ति खंडित होने पर उसे पूर्ववत करने के लिए कई समस्याओं का सामना करना पडता है. ऐसे क्षेत्र के लिए बिजली दर व आपूर्ति इसपर नई नीति तैयार करने की आवश्यकता होने की जानकारी दी. 

    बैठक में प्रधान ऊर्जा सचिव दिनेश वाघमारे, महावितरण के अध्यक्ष व प्रबंधकीय  संचालक विजय सिंघल, महानिर्मिति के अध्यक्ष व प्रबंधकीय संचालक संजय खंदारे, मराविम सूत्रधारी कंपनि के सलाहगार उत्तम झाल्टे, महावितरण के कार्यकारी संचालक अरविंद भादीकर व अन्य अधिकारी उपस्थित थे.