आवास योजना में तांत्रिक कारणों से अपात्र हुए लाभार्थियों का पुन: समावेश करें

    तिरोडा. प्रधानमंत्री आवास योजना अंतर्गत जरूरतमंदों को निवास के लिए आवास योजना का लाभ दिलाने के लिए प्रधानमंत्री आवास योजना केंद्र शासन द्वारा अमल में लाई जाती है. जिसके तहत लाभार्थियों का सर्वे कर प्रपत्र ड सूची में नाम समावेश किया जाता है. पश्चात उक्त सूची को ग्राम सभा में मंजूरी देकर वरिष्ठ अधिकारियों को भेजा जाता है.

    लेकिन सन 2016-17 में जिले में ऐसे पात्र लाभार्थियों के नाम भेजे गए लेकिन सर्वे के अनुसार तांत्रिक गड़बड़ी से अधिकांश लाभार्थियों के नाम ऑनलाइन प्रकाशित सुची में नहीं दिखाई देने से अनेक गांव से भेजे गए कुल नामों में से केवल 1 प्रश. नाम ही सुची में शामिल हुए. जैसे डोंगरगांव, खड़की से 287 लाभार्थियों के नाम भेजे गए. लेकिन इनमें से केवल 2 लाभार्थियों के नाम पात्र सुची में शामिल हुए और 285 अपात्र ठहराए गए.

    उसी तरह गोरेगांव तहसील में गणखैरा ग्राम के 512 में से केवल 7 ही लाभार्थियों का अंतिम सुची में समावेश किया गया. जिले की लगभग सभी तहसीलों में सुची को ऑनलाइन करते वक्त कर्मचारियों की गलती से अनेक पात्र लाभार्थियों का नाम आवास योजना में शामिल नहीं हो पाया. लगभग 90 से 95 प्रश. लाभार्थी उक्त योजना के  लाभ से वंचित रह गए.

    जिससे ग्राम के लाभार्थियों का रोष ग्रापं पर है. जिसका संज्ञान लेते हुए विधायक विजय रहांगडाले ने जिप मुख्य कार्यपालन अधिकारी को यह जानकारी दी तथा पात्र लाभार्थियों की सुची को प्रशासन की देखरेख में ग्राम सभा में पढ़कर उसे पुन: पात्र ठहराते हुए सुची में शामिल लाभार्थियों को आवास योजना का लाभ दिलाया जाए. जिसकी सुचना तहसील स्तर पर गट विकास अधिकारी को दी जाए. इस संदर्भ में मुख्य कार्यपालन अधिकारी ने बताया कि आगामी 8 दिनों में उक्त विषय का निपटारा किया जाएगा.