MLA Santosh Danve's big claim, said- Minister of State Abdul Sattar helped BJP in Rajya Sabha elections

    जालना: भारतीय जनता पार्टी के विधायक संतोष दानवे ने शनिवार को दावा किया कि महाराष्ट्र में छह सीट के लिए हुए राज्यसभा चुनाव में शिवसेना विधायक अब्दुल सत्तार ने भाजपा की मदद की। दानवे ने पत्रकारों से कहा कि शिवसेना सांसद संजय राउत की ओर से कुछ निर्दलीय विधायकों को शुक्रवार को हुए राज्यसभा चुनावों में महा विकास आघाड़ी (एमवीए) के उम्मीदवारों के पक्ष में मतदान नहीं करने के लिए गद्दार करार देना गलत है। चुनाव परिणाम शनिवार तड़के घोषित किए गए।

    उन्होंने कहा, ‘‘निर्दलीय विधायक गद्दार नहीं हैं, क्योंकि उन्होंने अपने संवैधानिक अधिकार के अनुसार मतदान किया। आपके उम्मीदवार के राज्यसभा चुनाव हारने के बाद ऐसा बयान देना गलत है। अब्दुल सत्तार को राउत के गद्दारों की सूची में नंबर एक पर होना चाहिए।”

    जालना जिले के भोकरदान निर्वाचन क्षेत्र के विधायक दानवे ने कहा, ‘‘मुझे यकीन है कि सत्तार आगामी विधानसभा चुनावों में एक बार फिर भाजपा की मदद करेंगे, जैसा उन्होंने राज्यसभा चुनाव में किया।” वह (संतोष) केंद्रीय मंत्री रावसाहेब दानवे के बेटे हैं। उन्होंने भाजपा द्वारा उतारे गए तीनों उम्मीदवारों की जीत का श्रेय पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस और भाजपा की राज्य इकाई के अध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल की सावधान योजना और क्रियान्वयन को दिया।

    सत्तार औरंगाबाद जिले के सिल्लोड विधानसभा क्षेत्र का प्रतिनिधित्व करते हैं। इससे पहले दिन में, राउत ने दावा किया था कि बहुजन विकास आघाड़ी (बीवीए) के तीन विधायक, करमाला से एक निर्दलीय विधायक संजयमामा शिंदे, स्वाभिमानी पार्टी के विधायक देवेंद्र भुयार और पीडब्ल्यूपी विधायक श्यामसुंदर शिंदे ने आश्वासन के बावजूद एमवीए को वोट नहीं दिया।