File Photo
File Photo

    नागपुर. गुप्त सूचना के आधार पर नंदनवन पुलिस ने छापेमारी कर एक घर से 10 लोगों को सट्टा पट्टी काटते पकड़ा. इसमें घर के किरायेदार को भी गिरफ्तार किया गया जिसे मुख्य आरोपी बताया जा रहा है. पुलिस ने यहां से 13,500 रुपये का सामान जब्त किया.

    मुख्य आरोपी का नाम हसनबाग निवासी इब्राहिम खान अकबर खान (55) बताया गया. अन्य आरोपियों में हसनबाग निवासी हसन शहा रहमान शहा (68), लालगंज निवासी अरविंद वामनराव जिचकार (52), बाबाताज नगर निवासी मुस्ताक शेख मुस्तफा शेख (50), नंदनवन झोपड़पट्टी निवासी गौरव सिद्धेश्वर बहादुरे (26), हसनबाग निवासी मोहम्मद शहजाद मोहम्मद फारूख (34), नंदनवन निवासी मोसिन सलीम पठान (20), महाल निवासी प्रफुल प्रभाकर सराफ (44), वर्धा निवासी आसिफ शेख मोहम्मद यासीन (36), भवानीनगर निवासी प्रीतम रमेश माहुरकर (33) शामिल हैं.

    रंगेहाथ पकड़ाये

    नंदनवन थाने के प्रभारी पीआई रविन्द्र दुबे को गुप्त सूचना मिली कि नंदनवन के तहत सलीम मोहम्मद सामी के घर में लंबे से समय से कल्याण नाम से सट्टे का काम चल रहा है और बड़ी संख्या में मटका के आंकड़े लिखे जाते हैं. रात करीब 8.30 बजे पीआई दुबे ने पूरी टीम के साथ छापेमारी कर दी. वहां से पुलिस को सट्टा पट्टी के नंबर लिखते हुए 9 आरोपी मिले. वहां से पुलिस ने खायवाली के 11,710 रुपये नगद समेत 13,500 रुपये का सामान जब्त किया.

    पुलिस को 18 पर्चियां भी मिलीं जिन पर सट्टे के नंबर लिखे थे. पूछताछ में पता चला कि यह मकान इब्राहिम ने सामी से किराये पर लिया हुआ था और वह यहां कल्याण नाम से मटका व्यापार की खायवाली कर रहा था. बाद में पुलिस ने इब्राहिम को भी गिरफ्तार कर लिया. यह कार्रवाई डीसीपी डॉ. अक्षय शिंदे, एसीपी नीलेश पालवे के मार्गदर्शन में पीआई दुबे, एपीआई परशुराम भवाल, संदीप गुंडलवार, विकास टोंग, प्रवीण भगत, चंद्रशेखर कदम, आशीष राऊत, सरफराज खान आदि द्वारा पूरी की गई.