fraud
Representative Photo

    नागपुर. आरटीओ कार्यालय में नौकरी दिलाने के नाम पर धोखाधड़ी करने वाले 2 आरोपियों के खिलाफ सदर पुलिस ने मामला दर्ज किया है. आरोपियों में सीपी क्लब, सर्वेंट क्वार्टर निवासी जेम्स अंथोनी जोसेफ (52) और लाखनी, भंडारा निवासी शेंडे का समावेश है. पुलिस ने शास्त्रीनगर, सुरेंद्रगढ़ निवासी पुरुषोत्तम विश्वनाथ तायवाड़े (49) की शिकायत पर मामला दर्ज किया है.

    वर्ष 2017 में पुरुषोत्तम की पहचान जेम्स से हुई. जेम्स ने उन्हें बताया कि शेंडे नामक दोस्त की आरटीओ कार्यालय में अच्छी पहचान है. चाहे तो उनके बेटे को आरटीओ पश्चिम विभाग में ऑपरेशन असिस्टेंट पद पर नौकरी मिल सकती है. पुरुषोत्तम का बेटा राकेश और उनके मामा ससुर का बेटा राहुल रोजगार की तलाश में थे.

    दोनों ने नौकरी के लिए जेम्स और शेंडे को 3.50 लाख रुपये दिए. 3 वर्ष बीतने के बावजूद दोनों को नौकरी नहीं मिली. आखिर परेशान होकर पुरुषोत्तम ने पुलिस से शिकायत की. सदर पुलिस ने दोनों के खिलाफ धोखाधड़ी की विविध धाराओं के तहत मामला दर्ज किया है.