arrested
File Photo

Loading

नागपुर. क्राइम ब्रांच की यूनिट-3 ने एक ऐसे चोर को पकड़ा जिसने चोरी के माल से मिली रकम से एक नई महंगी बाइक खरीद ली. पुलिस ने प्रतापनगर थाना क्षेत्र में 35,000 रुपये नकद और कीमती गहनों समेत 1.22 लाख रुपये की चोरी के मामले में यह गिरफ्तारी की. आरोपी चिंचभवन निवासी शरद शामराव कातलाम (21) बताया गया. पूछताछ में शरद ने वाठोडा थाना क्षेत्र में एक और चोरी की कबूली भी दी. इस चोरी में उसका एक अन्य साथी भी शामिल था. पुलिस ने उसकी तलाश शुरू कर दी.

जानकारी के अनुसार, न्यू स्नेहनगर निवासी निखिल सुरेश रोंदलकर (46) करीब एक सप्ताह पहले अपने परिवार के साथ एक दिन के लिए शेगांव गये थे. इस बीच देर रात अज्ञात चोरों ने उनके घर में सेंधमारी कर सोने-चांदी के आभूषण और 35,000 रुपये समेत 1,22,350 रुपयों के माल पर हाथ साफ कर लिया था. अगले दिन घर लौटने पर उन्हें चोरी का पता चला तो पुलिस में मामला दर्ज कराया.

जाल बिछाकर दबोचा

जांच के दौरान क्राइम ब्रांच यूनिट-1 की टीम को गुप्त जानकारी मिली कि इस चोरी में शरद का हाथ है. इसके बाद क्राइम ब्रांच ने प्रतापनगर परिसर के यामाहा शोरूम के पास जाल बिछाकर शरद को एक बाइक के साथ धरदबोचा. तलाशी लेने पर उसके पास 5,500 रुपये और कुछ आभूषण भी मिले. इनके बारे में पूछने पर शरद ने न्यू स्नेहनगर में चोरी करने की बात कबूल की. उसे थाने लाकर कड़ी पूछताछ में उसने वाठोडा थाना क्षेत्र के शैलेशनगर में भी अपने साथी चिखली बस्ती, कलमना निवासी प्रदीप उर्फ दादू ठाकुर के साथ मिलकर चोरी की कबूली दी. उसने बताया कि वाठोडा की चोरी में मिले गहनों को बेचकर उसने यामाहा कंपनी की महंगी बाइक खरीदी थी.

उसकी निशानदेही पर पुलिस ने बिना नंबर प्लेट वाली नई बाइक भी बरामद की. आगे की कार्रवाई के लिए शरद को प्रतापनगर पुलिस के हवाले किया गया. उक्त कार्रवाई डीसीपी सुदर्शन मुमक्का के मार्गदर्शन में पीआई सुहाष चौधरी, एपीआई राजेंद्र गुप्ता, प्रवीण महामुनि, बबन राउत, सुनीत गुजर, सुशांत सोलंकी, नितेश तुमडाम, मनोज टेकाम, शरद चांभारे, योगेश सातपुते, रवींद्र राऊत, चंद्रशेखर भारती आदि ने की.