Tiger Foundation received donations and provided assistance to guides, drivers etc.
File Pic

    नागपुर. पेंच व बोर व्याघ्र प्रकल्प, उमरेड-पवनी-कर्हांडला अभयारण्य पर्यटन स्थलों को 1 अक्टूबर से खोल जा रहा है. मुख्य वनसंरक्षक व क्षेत्र संचालक पेंच प्रकल्प रवि किरण गोवेकर ने यह जानकारी दी. उन्होंने बताया कि पेंच के सिल्लारी, खुर्सापार, चोरबाहुली, कोलीतमारा, सुरेवानी, खुबाला, पवनी गेट, बोर व्याघ्र प्रकल्प के बोरधरण गेट और उमरेड-पवनी-कर्हांडला व गोठनगांव गेट 1 से 15 अक्टूबर तक ऑफ लाइन पद्धति से गेट पर वाहन क्षमता कम कर शुरू किया जा रहा है. यहां 12 वाहन रहेंगे. इसी तरह अड़ेगांव गेट बारिश के कारण बंद रखा गया है. उमरेड-पवनी-कर्हांडला अभयारण्य का पवनी गेट 15 से 31 अक्टूबर तक ऑफ लाइन पद्धति से उपलब्ध रहेगा. 

    16 के बाद ऑनलाइन बुकिंग

    पर्यटकों को ऑनलाइन सफारी बुकिंग सुविधा 16 अक्टूबर से उपलब्ध होगा. पवनी भडारा पर्यटन गेट से ऑनलाइन बुकिंग सुविधा 1 नवंबर से शुरू होगी. सिल्लारी में निवास व्यवस्था 1 अक्टूबर से ऑफ लाइन और ऑनलाइन बुकिंग की जा सकेगी. इसके लिए www.mahaecotourism.gov.in पर 10 अक्टूबर से बुकिंग होगी. अधिक जानकारी के लिए क्षेत्र संचालक पेंच व्याघ्र प्रकल्प व विभागीय वन अधिकारी (वन्यजीव) बोर अभयारण्य कार्यालय से संपर्क किया जा सकता है.