liquor seized
File Photo

  • 1 सप्ताह में 361 के खिलाफ कार्रवाई

नागपुर. शराब की दूकानों के आस-पास चल रहे अंडे के ठेलों और भोजनालय में शराब पीने की सुविधा उपलब्ध करवाने वाले रेस्टोरेंट के खिलाफ पुलिस कमिश्नर अमितेश कुमार ने विशेष अभियान चलाने के निर्देश विभाग को दिए. 20 दिसंबर से 26 दिसंबर के बीच शहर पुलिस ने बड़े पैमाने पर कार्रवाई को अंजाम दिया. 1 सप्ताह में 361 कार्रवाई की गई. पुलिस ने 16.71 लाख रुपए का माल भी जब्त किया है.

सीपी को शिकायत मिली थी कि शहर के वाइन शॉप के आस-पास अंडे और चायनीज के ठेलों पर खुलेआम शराब पी जाती है. इसके अलावा होटलों में भी अनुमति न होने के बावजूद ग्राहकों को शराब पीने और खान-पान की सुविधा उपलब्ध करवाई जाती है. इससे वातावरण खराब हो रहा था.

विशेषतौर पर महिलाओं की दिक्कतों को देखते हुए सीपी ने विशेष अभियान चलाने के निर्देश दिए. सभी 5 जोन के डीसीपी ने थानों में तैनात डीबी दस्ते के अधिकारियों और कर्मचारियों को कार्रवाई के निर्देश दिए. जगह-जगह लगने वाले ठेलों पर पुलिस ने कार्रवाई की. विशेषतौर पर कमाल चौक से रानी दुर्गावती चौक के बीच इन ठेलों की संख्या ज्यादा थी. उनका सामान भी जब्त कर लिया.

1,534 होटलों की जांच

इसके अलावा 1,534 होटल, ढाबों और सावजी भोजनालयों पर भी पुलिस ने दबिश दी. अवैध तरीके से शराब पिलाने वाले 361 लोगों को मुंबई पुलिस एक्ट के तहत कार्रवाई की गई. शराब बंदी कानून के तहत 70 कार्रवाई कर 74 लोगों को गिरफ्तार किया गया. पुलिस ने ठेले और होटलों के टेबल कुर्सी व शराब सहित 16.71 लाख रुपये का माल जब्त किया. अलग-अलग स्थानों पर हथियार लेकर घूमने वाले 12 अपराधियों को पुलिस ने गिरफ्तार किया.

एनडीपीएस सेल द्वारा न्यू कामठी थाना क्षेत्र में आमिर उर्फ गोलू बब्बा शेरखान से 1.110 किलो ग्राम गांजा और यशोधरानगर थाना क्षेत्र में इमरान अंसारी से 2.177 किलो ग्राम गांजा जब्त किया गया. डीसीपी गजानन राजमाने, नुरुल हसन, विनीता शाहू, लोहित मतानी, अक्षय शिंदे और निलोत्पल के मार्गदर्शन में सभी डिटेक्शन स्क्वॉड ने कार्रवाई को अंजाम दिया.