Money kept in credit society will now be safe
File Photo

  • कोरोना से मृत हुए मनपा कर्मियों के परिजनों को राहत
  • पहले चरण में 30 जुलाई तक मृत कर्मियों को मदद
  • 25 लाख की मदद की जाएगी
  • महापौर मुरलीधर मोहोल की जानकारी

पुणे. शहर में जब कोरोना (Corona) अपने अति चरम पर था तब इस प्रकोप से लोगों को बचाने के लिए मनपा ने अपने सभी कर्मी काम पर लगा दिए थे। जिसके चलते करीब 48 कर्मियों की मृत्यु हो चुकी है। इन कर्मियों के लिए 1 करोड़ का सुरक्षा कवर (Protective cover) मनपा ने घोषित किया है। इन कर्मियों के परिवारों को अब नियमानुसार मदद दी जाएगी।

पहले चरण में 30 जुलाई तक मृत कर्मियों को मदद दी जाएगी। ऐसे 15 परिवारों को आगामी दो दिनों में 25 लाख की मदद देने का काम शुरू हो जाएगा। ऐसी जानकारी महापौर मुरलीधर मोहोल (Mayor Muralidhar Mohol) ने दी।

48 मनपा कर्मियों ने गंवाई जान  

शहर में कोरोना का काम करते हुए अब तक 48 मनपा कर्मियों की मौत हो चुकी है, तो 650 से अधिक कर्मी संक्रमित पाए गए हैं। इसमें सफाई कर्मियों की तादाद ज्यादा हैं। इसमें से करीब 450 से अधिक कर्मियों को डिस्चार्ज दिया गया है। इन कर्मियों के परिवारों को नियमानुसार मदद देने की प्रक्रिया प्रशासन द्वारा की जा रही थी। उसके बावजूद सुरक्षा कवर पर मनपा अमल नहीं कर पा रही थी। क्योंकि इससे संबंधित प्रस्ताव को आम सभा की मंजूरी नहीं मिली थी।

इसको लेकर सर्वदलीय नेताओं के साथ महापौर ने बैठक की थी। आम सभा मंजूरी देगी, इस भरोसे प्रस्ताव पर अमल करें व उन्हें 25 लाख की मदद करें। ऐसी दरख्वास्त महापौर ने मनपा आयुक्त से की थी। इसके अनुसार अब कर्मियों के परिजनों को 25 लाख की मदद मिलने का रास्ता साफ हुआ है। आयुक्त ने इसे हरी झंडी दिखाई है। साथ ही प्रशासन के परिवारों को देने के लिए चेक भी तैयार कर लिए गए हैं।

मनपा कर्मियों को कोरोना सुरक्षा कवर देनेवाली पुणे मनपा राज्य की पहली मनपा बन गई है। कोरोना से मृत कर्मियों के परिवारों को राशि देने की हमारी प्रक्रिया पूरी हो चुकी है। आगामी दो दिनों में कई परिवारों को राशि दी जाएगी। विभिन्न चरणों में यह राशि अदा की जाएगी।

– मुरलीधर मोहोल, महापौर, पुणे