Chikki with insects given to the students of Municipal School

    ठाणे. ठाणे महानगरपालिका स्कूलों (Thane Municipal School) में दिए जाने वाले चिक्की (Chikki) में कीड़े मिलने का सनसनीखेज मामला सामने आया है। यह मामला सामने आने के बाद ठाणे शहर कांग्रेस (Congress) ने इन चिक्कियों की आपूर्ति करने वाले ठेकेदार के खिलाफ मामला दर्ज कर सभी भुगतान रोकने की मांग की है।  

    ठाणे में महानगरपालिका के 200 से अधिक महानगर पालिका के स्कूल हैं। इन स्कूलों में लगभग 35 हजार से अधिक छात्रों को स्वस्थ आहार के लिए प्रतिदिन चिक्की दी जाती हैं। कोविड काल में स्कूल बंद होने के चलते ठेकेदार द्वारा चिक्कियों की आपूर्ति ठप हो गई थी। इसके बाद सप्ताह में एक बार इन चिक्कियों की आपूर्ति करने का निर्णय ठाणे महानगरपालिका के शिक्षा विभाग ने संशोधित निर्णय के साथ लिया है। स्थाई समिति की बैठक में कांग्रेस शहर अध्यक्ष और नगरसेवक एडवोकेट विक्रांत चव्हाण ने भी इस विषय को उठाया।

    अवैध बंगले पर चिक्कियों का भंडारण रखा गया है

    चव्हाण ने आरोप लगाया कि नियमों और शर्तों को दरकिनार कर ठेका अवैध रूप से दिया गया है। यह फैक्ट्री भी ठाणे में होने के बजाय सोलापुर में है। ठाणे के एक अवैध बंगले पर इन चिक्कियों का भंडारण कर रखा गया है। शहर के कांग्रेस प्रवक्ता सचिन शिंदे ने आरोप लगाया कि जिस स्थान पर चिक्कियों का भंडारण किया जा रहा है, वहां सही तरीके से साफ-सफाई की उचित व्यवस्था नहीं है। उन्होंने कहा कि महानगरपालिका स्कूलों के सभी छात्रों तक चिक्की को पहुंचने के लिए संबंधित ठेकेदार को यात्रा शुल्क भी दिया जा रहा है, जो अवैध है। उन्होंने कहा कि इस चिक्की में कीड़े पाए गए हैं। उन्होंने कहा कि महानगरपालिका कमिश्नर डॉ. विपिन शर्मा से मिलकर ठेकेदार के खिलाफ मामला दर्ज कराने और उसका भुगतान तुरंत रोके जाने की मांग करेंगे।