DJ
File Photo

    वर्धा. शादियों का मौसम शुरू हो गया है, जिससे डीजे एवं साउंड व्यवसायियों को अच्छे दिन आने की उम्मीद थी़  वहीं डीजे एवं साउंड व्यवसायी पुलिस प्रशासन के कारवाई की मार इन दिनों झेल रहे है़  निरंतर जुर्माना ठोका जा रहा है़  इस दौरान किसी ने जुर्माना भरने से मना करने पर उनके डीजे एवं साउंड सिस्टम जब्त किए जाते हैं. पुलिस की कार्रवाई के चलते अब साउंड सिस्टम धारकों ने आक्रामक रूख अपना लिया है़  उन्होंने अपनी सभी सामग्री एसपी कार्यालय में जमा करने का निर्णय लेने की जानकारी है. कोरोना की स्थिति में सुधार आने से सभी पाबंदियां हटाई गई है़  सरकार की ओर से शादी समारोह को पूर्ण क्षमता के साथ अनुमति भी दी गई.

    लोगों की खुशियों में रोडे अटका रह प्रशासन

    लोग शादियों में अपनी सभी खुशियां पूर्ण करने के मूड में है़  इस दौरान बैंड, बारात को अनुमति रहने से लोग धूमधाम से शादियां मना रहे है़ं  सरकार के किसी भी प्रकार के निर्देश नहीं रहने के बावजूद भी स्थानीय प्रशासन इन खुशियों की आड़ आने की शिकायतें नागरिक कर रहे है़ं  डीजे, साउंड व्यवसायियों के साथ ही आम नागरिकों पर भी जुर्माना ठोका जा रहा है, जिससे रोष व्यक्त हो रहा है. 

    6 डीजे जब्त, सभागृहों को नोटिस जारी

    शादी समारोह संगीत के बिना अधूरा माना जाता है़  ऐसे में सभागृह संचालकों द्वारा डीजे बजाने को अनुमति देना आम बात है़  लेकिन स्थानिय प्रशासन निरंतर डीजे, साउंड सिस्टम बजाने वालों पर कार्रवाई कर रहा है़ पहले ही कोरोना के कारण व्यवसायी आर्थिक तंगी में है़  जो डीजे, साउंड सिस्टम मालिक जुर्माना नहीं भर पाए उनके डीजे जब्त किए गए़  पुलिस प्रशासन ने शहर के अब तक 6 डीजे जब्त किए है़  वहीं साटोडा स्थित वोकेजन, मोतिमहल, बायपास स्थित आर्या आदि सभागृहों को नोटिस जारी किया गया, जिससे उन्हें व्यवसाय करना कठीन हो गया है. 

    शादी का माहौल बिगड़ता जा रहा   

    पुलिस प्रशासन शादी समारोह में दस्तक देकर डीजे बंद करने की कार्रवाई कर रहा है़  इस दौरान दूल्हा, सभागृह चालक तथा डीजे मालिक पर प्रति 10 हजार इस प्रकार 30 हजार का जुर्माना ठोंका जा रहा है़  इस कार्रवाई से रोष बढ़ता जा रहा है़  पुलिस प्रशासन की शादियों पर कार्रवाई के कारण अच्छा खासा माहौल बिगड़ रहा है. 

    सोमवार को कलेक्टर को देंगे ज्ञापन

    साउंड व्यवसायियों पर पुलिस कार्रवाई को लेकर विधायक को अवगत कराया गया है़  इस संदर्भ में सोमवार को जिलाधिकारी व पुलिस अधिक्षक को निवेदन देकर न्याय की गुहार लगाएंगे़  पारंपारिक वाद्य सामुग्री बजाने को लेकर पाबंदी लगाई गई है़  यह अन्यायपूर्ण है़  प्रशासन ने न्याय नहीं दिया तो संपूर्ण सामग्री एसपी कार्यालय में जमा करेंगे.  

    -संजय ठाकरे, अध्यक्ष-मंगल कार्यालय एसो़ 

    कार्रवाई के चलते कैसे करे व्यवसाय 

    पहले ही कोरोना के कारण आर्थिक रूप से संकट में है़  2 वर्ष के बाद व्यवसाय पटरी पर आ रहा है़ ऐसे में पुलिस की कार्रवाई के कारण परेशानी हो रही है़ छोटा साउंड बजाने को लेकर भी पाबंदी लगाई गई है़ यह अन्यायपूर्ण है़  इस संदर्भ में संगठन की बैठक हुई है़ उक्त कारवाई के संदर्भ में डीएम व एसपी से चर्चा करेंगे. 

    -नितिन शिंदे, अध्यक्ष-मंडप व डेकोरेशन एसो.