Swarajya Dhwaj Yatra

    वर्धा. राष्ट्रवादी कांग्रेस के विधायक रोहित पवार की संकल्पना से देश का सबसे ऊंचा भगवा ध्वज महाराष्ट्र की पावन भूमि में फहराया जाने वाला है़  ध्वज की पूजन यात्रा कर्जत के ग्रामदैवत गोदड महाराज मंदिर के प्रांगण से आरंभ हुई़  यात्रा 6 राज्यों से 12 किमी अंतर 36 दिनों में पूर्ण करेगी़  14 सिंतबर को यात्रा का आगमन जिले में सुबह 7 बजे पवनार स्थित विनोबा भावे आश्रम में होगा. आश्रम परिसर में ध्वज पूजन कार्यक्रम होगा़   यहां से वह नागपुर के लिए प्रस्थान करेगी़  नागपुर में दीक्षाभूमि, रामटेक गड़मंदिर और कोरंभी जाएगी. 

    मार्ग में 74 स्थानों पर होगा पूजन

    यह 74 मीटर ध्वज दशहरे के मुहूर्त पर 15 अक्टूबर को खर्डा स्थित भुईकोट किले पर फहराया जाने वाला है़  स्वराज्य ध्वज की प्रतिष्ठापना के पहले महाराष्ट्र के साथ ही देश के प्रमुख संत भूमि, शौर्य भूमि, धार्मिक स्थल, श्रीराम मंदिर(अयोध्या), मथुरा, बोधगया(बिहार), केदारनाथ(उत्तराखंड), आगरा किला(उत्तरप्रदेश), अजमेश शरीफ दरगाह(राजस्थान), महाराज श्रीमंत सयाजीराव खंडेराव गायकवाड(तृतीय), बड़ौदा संस्थान के अधिपती, गुजरात ऐसे विभिन्न 74 जगहों पर ध्वज का पूजन होगा. इसमें से पवनार स्थित आचार्य विनोबा भावे आश्रम एक प्रमुख जगह है.  

    ध्वज भुईकोट किले के इतिहास का प्रतीक

    निजामों के खिलाफ हिंदवी स्वराज्य की विजय हुई. वह भूमि अहमदनगर जिले की कर्जत-जामखेड़ स्थित शिवपट्टण यानी खर्डा भुईकोट किले का ऐतिहासिक महत्व जानकर परिसर को नई पहचान दिलाने का संकल्प किया गया है़  इसके अनुसार किले के परिसर में इतिहास का गौरवशाली प्रतीक के रूप में यह ध्वज साकार किया जा रहा है़  यह 74 मीटर ऊंचा भगवा स्वराज्य ध्वज युवा पीढ़ी को प्रेरणा, ऊर्जा देने वाला साबित होगा.