Farmers
Representational pic

वाशिम. कृषि विभाग ने अब महाडीबीटी पोर्टल पर किसान योजना इस शीर्षक के नीचे किसानों के सुविधा हेतु सभी योजना का लाभ एक ही आवेदन व्दारा देने की दृष्टि से आवेदन करने से प्रत्यक्ष लाभ मिलने तक एकात्मिक संगणकीय प्रणाली विकसित की है़  इसके लिए जिले के 394 किसानों ने महाडीबीटी पोर्टल पर पंजीयन किया है़  इस प्रणाली व्दारा किसानों को उनकी पसंद चुनने की स्वतंत्रता दी है. उन्होंने कृषि संबंधित विविध मामलों के लिए आवेदन करने का आहवान कृषि विभाग की ओर से किया गया है़.

लेकिन इस में किसानों को कई मुश्किलों का सामना करना पड़ेगा़  अनेक किसानों के पास मोबाइल नही है़  आधार लिंक नही रहने से बाधा, पर्याय के लिए रहनेवाले थम्ब इंप्रेशन सिस्टिम भी कमजोर ठहर रही है़  यह सिस्टम भी व्यवस्थित नही रहने से ऑनलाइन आवेदन करते समय मुश्किले आ रही है़  आपले सरकार केंद्र में किसान भीड़ करते है़  लेकिन अनेक बार कनेक्टिविटी नही मिलने से संगणक परिचालक भी परेशान हो जाते है़.

31 दिसंबर तक आवेदन देने की अंतिम तिथि होकर जिले में अत्यंत कम किसानों का पंजीकरण हुआ है़  इस के लिए किसानों को लाभ लेने के लिए किसानों ने अपना व्यक्तिगत मोबाइल क्रमांक आधार कार्ड से संलग्न करके महाडीबीटी पोर्टल के संकेतस्थल पर किसान योजना यह पर्याय चुनकर किसान स्वयं का मोबाइल अथवा संगणक व्दारा सेवा केंद्र अथवा ग्राम पंचायत के संग्राम केंद्र आदि के माध्यम से महाडीबीटी पोर्टल पर आवेदन कर सकते है़ 

31 दिसंबर आवेदन की अंतिम तिथि 

जिला अधीक्षक कृषि अधिकारी शंकर तोटावार ने बताया कि जीन किसानों ने महाडीबीटी पोर्टल पर कृषि विषयक योजना का लाभ मिलने के लिए अभी तक आवेदन नही किया है़ उन्होंने 31 दिसंबर तक आवेदन पोर्टल पर करे़ं  इस तिथि तक प्राप्त सभी आवेदन लाटरी के लिए स्वीकार किए जाएंगे. कृषि विभाग ने किसान योजना इस शीर्षक के नीचे किसानों के सुविधा के लिए शुरू की है़.