चना बीज वितरण में पारदर्शिता लाएं, स्वाभिमानी शेतकारी संगठन की तहसीलदार से की मांग

    यवतमाल. स्वाभिमानी शेतकारी संगठन के सचिन उबाले पाटिल ने महागांव तहसीलदार से चने के बीज का वितरण समय के भीतर करने और पारदर्शी तरीके से किसानों को बीज वितरित करने की मांग की है.

    राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा मिशन के तहत राज्य सरकार ने रबी सीजन के लिए सब्सिडी पर किसानों को बीज वितरित करने की योजना शुरू की है. हालांकि सरकार ने यह महत्वपूर्ण कदम रब्बी के मौसम को देखते हुए उठाया है, लेकिन यह योजना अन्य योजनाओं की तरह मृगतृष्णा नहीं होनी चाहिए.

    इसके लिए बीज वितरण में पारदर्शिता और प्रभावी क्रियान्वयन की आवश्यकता है. भले ही रबी सीजन के लिए सस्ते परमिट पर चने के बीज उपलब्ध हों, लेकिन कुछ किसानों की शिकायत है कि ऑनलाइन आवेदन में उपलब्ध चने के बीज दिए बिना उन्हें दूसरी कंपनी के चने के बीज थोपा जा रहा है.

    अल्पसंख्यक किसानों की किसी भी शर्त के बिना सभी किसानों को समान चने के बीज वितरित किए जाएं. हालांकि, चना बीज वितरण की गंभीरता को देखते हुए संबंधित कर्मचारी किसानों को बीज बोने से पहले उपलब्ध करा दें.

    अल्पभूधारक किसानों की किसी भी शर्त के बिना सभी किसानों को समान चने के बीज वितरित किए जाएं. हालांकि, चना बीज वितरण की गंभीरता को देखते हुए संबंधित कर्मचारी किसानों को बीज बोने से पहले उपलब्ध करा दें. इसके लिए परिसर के किसान नेता सचिन उबाले ने महागांव तहसीलदार से मिलकर ज्ञापन से बीजों का वितरण में पारदर्शकता लाने की मांग की है.