उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने अधिकारियों के साथ बैठक कर, जिले की विकास परियोजनाओं को लेकर यह निर्देश दिए

    Loading

    लखनऊ : उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य (Deputy Chief Minister Keshav Prasad Maurya) ने अधिकारियों (Officials) को निर्देश दिए हैं कि वह जनप्रतिनिधियों ( Public Representatives) का पूरा सम्मान करें और जनहित और  सार्वजनिक हितों से जुड़े हुए जो भी काम जनप्रतिनिधि बतायें, उन्हें पूरी तत्परता के साथ पूरा करें। उन्होंने कहा यदि कोई कार्य नहीं होने वाला है तो उसके लिए जनप्रतिनिधियों को पूरी तरह से वस्तु स्थिति से अवगत करते हुए उन्हें संतुष्ट करें। यदि कोई कार्य ऐसा है जो जिला लेवल, तहसील लेवल, या ब्लॉक लेवल से नहीं होने वाला है और मुख्यालय से होने वाला है तो उसे मुख्यालय लखनऊ और शासन को प्रकरण भेजना सुनिश्चित करें। 

    हर योजना के क्रियान्वयन में पूरी पारदर्शिता बरती जाए

    मौर्य जनपद एटा में प्रदेश अध्यक्ष भूपेंद्र चौधरी की मौजूदगी में जिले के विकास और प्रशासनिक अधिकारियों के साथ बैठक कर रहे थे। उन्होंने विभिन्न विकासपरक और सोशल सेक्टर की योजनाओं के क्रियान्वयन की जानकारी हासिल की और कहा की हर योजना के क्रियान्वयन में पूरी पारदर्शिता बरती जाए। सरकार द्वारा संचालित योजनाओं का लाभ वास्तविक पात्र लोगों को हर हाल में दिलाया जाए। उन्होंने कहा की सोशल सेक्टर की योजनाओं का लाभ हर पात्र को मिलना ही चाहिए। 

    अधिकारी गांवों में जाकर विकास कार्यों की जमीनी हकीकत को परखें

    उन्होंने कहा की विकास कार्य धरातल पर नजर आने चाहिए। अधिकारी गांवों में जाकर विकास कार्यों की जमीनी हकीकत को परखें और जहां पर जो कार्यवाही की जरूरत है, उसे पूरी तत्परता के साथ पूरा करें। पुलिस लाइन एटा में आयोजित बैठक में उन्होंने प्रधानमंत्री आवास योजना, मुख्यमंत्री आवास योजना, मनरेगा, अमृत सरोवरों के निर्माण, ग्रामीण आजीविका से संबंधित महत्वपूर्ण कार्यों, बी सी सखी, विद्युत सखी, स्वच्छ भारत मिशन, किसान सम्मान निधि, आयुष्मान भारत, कन्या सुमंगला योजना, जल जीवन मिशन, रोड नेटवर्क और गांव गरीब के कल्याण की चलाई जा रही विभिन्न योजनाओं के  क्रियान्वयन और प्रगति की समीक्षा की और अधिकारियों को महत्वपूर्ण दिशा निर्देश दिए। उन्होंने कहा की जन समस्याओं का निराकरण पूरी गंभीरता और  संवेदनशीलता के साथ किया जाए।

    इस अवसर पर सांसद राजवीर सिंह, विधायक विपिन कुमार डेविड, विधायक वीरेन्द्र सिंह लोधी, जिला अधिकारी, मुख्य विकास अधिकारी, अपर जिला अधिकारी, अपर पुलिस अधीक्षक, जिला विकास अधिकारी, परियोजना निदेशक डीआरडीए, सभी खण्ड विकास अधिकारी और अन्य जिला स्तरीय अधिकारी मौजूद रहे।