modi
File Photo

    नई दिल्ली. सुबह की बड़ी खबर के अनुसार आज  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi)अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी (Varanasi) पहुँच रहे है। वे यहां अखिल भारतीय शिक्षा समागम के तीन दिवसीय सम्मेलन का उद्घाटन करेंगे। पता हो कि इस सम्मेलन में शिक्षा क्षेत्र से जुड़े विभिन्न पक्षकार उच्च शिक्षा के बदलते परिदृश्य और राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 के विविध दृष्टिकोण के बारे में वे चर्चा करेंगे। 

    जी हाँ आज प्रधानमंत्री मोदी वाराणसी में होंगे। वे 1800 करोड़ रुपये से ज्यादा की विकास परियोजनाओं का यहां उद्घाटन और शिलान्यास करेंगे। अखिल भारतीय शिक्षा समागम का भी उद्घाटन करेंगे। अक्षय पात्र मध्याह्न भोजन रसोई का भी उनके द्वारा उद्घाटन होगा।

    इस बाबत शिक्षा मंत्रालय के बयान के अनुसार, केंद्रीय शिक्षा मंत्रालय, विश्वविद्यालय अनुदान आयोग और बनारस हिन्दू विश्वविद्यालय के सहयोग से अखिल भारतीय शिक्षा समागम का यह अहम और भव्य आयोजन कर रहा है। इसके तहत PM मोदी आज विभिन्न विकास परियोजनाओं का शिलान्यास एवं लोकार्पण करेंगे। 

    वहीं प्रशासनिक सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज यानी 7 जुलाई को एलटी कॉलेज वाराणसी में ‘अक्षय पात्र मध्याह्न भोजन रसोई घर” का भी उद्घाटन करेंगे। फिर प्रधानमंत्री शाम को डॉक्टर संपूर्णानंद स्पोर्ट्स स्टेडियम में करोड़ों रुपये की लागत से बनी परियोजनाओं का उद्घाटन एवं शिलान्यास भी आज करेंगे।

    उत्तर प्रदेश में हो रहे इस भव्य और महत्वपूर्ण कार्यक्रम में यहां की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, केंद्रीय शिक्षा मंत्री धर्मेन्द्र प्रधान के साथ-साथ सम्मेलन में सार्वजनिक एवं निजी क्षेत्र के विश्वविद्यालयों के 300 से अधिक कुलपति एवं निदेशक सहित शिक्षाविद, नीति निर्माता, उद्योगों के प्रतिनिधि आदि भी इसमें पहुँच कर हिस्सा लेंगे। 

    आने वाले तीन दिनों में ग्यारह सत्रों में होगी चर्चा 

    • 7 जुलाई- 1 सत्र-शिक्षा समागम का उद्घाटन, बहुविषयक और समग्र शिक्षा।
    • 8 जुलाई – 3 सत्र-अनुसंधान, नवाचार और उद्यमिता, गुणवत्तापूर्ण शिक्षा के लिए शिक्षकों का क्षमता निर्माण, गुणवत्ता, रैंकिंग और प्रात्यायन। डिजिटल सशक्तिकरण और ऑनलाइन शिक्षा, समान और समावेशी शिक्षा, भारतीय भाषाओं और भारतीय ज्ञान प्रणाली को प्रोत्साहन, एनईपी 2020 के क्रियान्वयन की सफलताएं और सर्वोत्तम का पूर्ण अभ्यास।
    • 9जुलाई – 3 सत्र – कौशल विकास और रोजगार योग्यता, शिक्षा का अंतर राष्ट्रीयकरण और एनईपी 2020 के क्रियान्वयन की सफलताएं और सर्वोत्तम अभ्यास।