Yogi Adityanath, CCTV cameras on every kilometer of highway, Uttar Pradesh, CM Yogi

Loading

  • 115 डिपो व 20 क्षेत्रीय कार्यशालाओं में दिया जाएगा प्रशिक्षण 
  • अग्नि सुरक्षा संबंधी जोखिमों की पहचान व नियंत्रण के लिए कर्मचारियों को बनाया जाएगा सशक्त 
  • प्रशिक्षण लेने वाले कर्मचारियों को एक वर्ष तक एक लाख रुपये दुर्घटना बीमा का मिलेगा लाभ  

लखनऊ: योगी सरकार (Yogi government) उत्तर प्रदेश राज्य सड़क परिवहन निगम की बसों में आग (Fire) लगने की घटनाओं के रोकथाम (Prevent) के लिए सजग (Alert) है। परिवहन निगम के कार्यक्रम समेत अन्य अवसरों पर सीएम योगी ने सड़क दुर्घटनाओं व आग लगने की घटनाओं पर चिंता जताते हुए अफसरों को इस पर अंकुश लगाने के निर्देश दे चुके हैं। इसके दृष्टिगत प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना के तत्वावधान में भारत सरकार की संस्था ‘हाइड्रोकार्बन सेक्टर स्किल काउंसिल’ की ओर से प्रशिक्षण प्रदान किया जाएगा। यह परिवहन निगम के 115 डिपो व 20 क्षेत्रीय कार्यशालाओं में चलेगा। 

115 डिपो व 20 क्षेत्रीय कार्यशालाओं में चलेगा प्रशिक्षण
परिवहन मंत्री दयाशंकर सिंह के मुताबिक यूपी में अग्नि सुरक्षा संबंधित जोखिमों की पहचान और उनके नियंत्रण के लिए कर्मचारियों को सशक्त बनाने के उद्देश्य से उत्तर प्रदेश राज्य सड़क परिवहन निगम के 115 डिपो एवं 20 क्षेत्रीय कार्यशालाओं के अधिकारियों एवं कर्मचारियों को निशुल्क प्रशिक्षण प्रदान किया जाएगा। प्रशिक्षण तिथि जल्द ही तय होगी। यह प्रशिक्षण न्यूनतम 300 घंटे एवं अधिकतम 500 घंटे का होगा। निगम के अधिकारियों एवं कर्मचारियों को श्रेणीवार प्रशिक्षण प्रदान किया जाएगा। 

प्रशिक्षण लेने वाले कर्मचारियों को 1 लाख रुपये का दिया जाएगा बीमा
योगी सरकार का उद्देश्य है कि प्रशिक्षण लेने वाले कर्मचारियों के जरिए जहां उप्र परिवहन निगम को इसका लाभ मिले। आग लगने की घटनाओं में बेतहाशा कमी हो,  वहीं कर्मचारियों की सुरक्षा पर भी योगी सरकार संजीदा है। इस प्रशिक्षण के अंत में अफसरों व कर्मचारियों को संस्था द्वारा प्रमाण पत्र प्रदान किया जाएगा। साथ ही प्रशिक्षण लेने वाले कर्मचारियों को एक वर्ष के लिए 1 लाख रुपये तक का दुर्घटना बीमा भी प्रदान किया जाएगा।