कंटेस्टेंट को गाली देने पर ट्रोल हुई नेहा धूपिया, अब दी सफाई

मुंबई. एम टीवी का पॉपुलर शो रोडीज़ के ऑडिशन में एक्ट्रेस नेहा धूपिया ने एक कंटेस्टेंट को अपशब्द कहा था। इसके बाद नेहा धूपिया सोशल मीडिया पर काफी ट्रोल हो रही है, नेहा के कई मेम्स भी बन रहे है। दरअसल,

मुंबई. एम टीवी का पॉपुलर शो रोडीज़ के ऑडिशन में एक्ट्रेस नेहा धूपिया ने एक कंटेस्टेंट को अपशब्द कहा था। इसके बाद नेहा धूपिया सोशल मीडिया पर काफी ट्रोल हो रही है, नेहा के कई मेम्स भी बन रहे है। दरअसल, एक कंटेस्टेंट ऑडिशन के दौरान कहा था कि, उसने एक लड़की को थप्पड़ मारा था। यह बात को सुनकर नेहा अपना आपा खो देती है, और उस लफ्ड़के को गाली देना शुरू कर देती है। इसके लिए कई लोग नेहा की आलोचना कर रहे है। अब इस बारे में नेहा धूपिया ने अपनी प्रतिक्रिया दी है। नेहा धूपिया ने सोशल मीडिया पर अपनी सफाई देते हुए पोस्ट शेयर किया।

उन्होंने ने लिखा, मैं पिछले पांच सालों से रोडीज का हिस्सा हूं। मैंने इस शो में हमेशा से वायलेंस के खिलाफ आवाज उठाई, मगर पिछले कुछ समय से मेरे साथ ठीक नहीं हो रहा। मैंने हर बार की तरह हिंसा के खिलाफ आवाज उठाई लेकिन, लोगो को मई आवाज उठाना सही नहीं लगा। एक कंटेस्टेंट ने ऑडिशन के दौरान बताया कि उसकी गर्लफ्रेंड ने उसे धोखा दे दिया था। इस वजह से उसने उसे एक थप्पड़ मार दिया। ये बात मुझे गलत लगी और मैंने उसकी क्लास ली।

नेहा ने आगे कहा कि हर इंसान की अपनी च्वॉइज है और उसे उसका पूरा हक है कि वो अपनी पसंद-नापसंद के मुताबिक चले। चाहे वह लड़की हो या लड़का। लेकिन, किसी को मारना यह सही नहीं है। पिछले दो हफ्ते से कई लोग मेरी आलोचना कर रहे है। मेरे पेज, मेरे परिवार, दोस्तों और टीम मेट्स को भी एब्यूजिंग मैसेज आ रहे हैं। मेरे पिता का व्हाट्सऐप भी गालियों से भरा हुआ है। यहां तक कि मेरी बेटी के पेज पर लोग गालियां लिख रहे हैं और ये मुझे मंजूर नहीं है।

आगे नेहा कहती है, मैं फिजिकल एब्यूज के सख्त खिलाफ हूं। चाहें जो भी हो मैं इसके खिलाफ हमेशा खड़ी रहूंगी। जाहिर है कि एक महिला के मुकाबले एक पुरुष के पास शारीरिक बल ज्यादा होता है। महिलाओं के साथ घरेलू हिंसा सिर्फ भारत ही नहीं बल्कि दुनियाभर में एक बड़ी समस्या है। मैं लोगों से दरखास्त करती हूं कि वे घरेलू हिंसा को लेकर सतर्क हो जाएं। अगर कोई इसका शिकार है तो वो बेझिझक इसके खिलाफ आवाज उठाए। इस बात का ध्यान रखा जाए कि वे अकेले नहीं हैं।