किसानों के समर्थन में कांग्रेस ने शहर भर में किया प्रदर्शन

ठाणे. दिल्ली में किसानों द्वारा केंद्र सरकार के किसान बिल के विरोध में देशव्यापी आंदोलन शुरू है, जिसका समर्थन कांग्रेस ने भी किया. गुरुवार को ठाणे कांग्रेस की तरफ से अध्यक्ष विक्रांत चव्हाण के नेतृत्व में सभी 12 ब्लाकों पर प्रदर्शन किया और अपना समर्थन दिया. 

कांग्रेस ने इसकी शुरुवात ठाणे के वागले इस्टेट स्थित आई.टी.आई. सर्कल तक महाराष्ट्र प्रदेश कांग्रेस कमेटी के महासचिव मनोज शिंदे के नेतृत्व में की. इस दौरान ब्लाक अध्यक्ष विनय विचारे, डा. अभिजीत पांचाल ने किसानों के समर्थन में भाजपा सरकार के विरुद्ध नारेबाजी करते हुए हाथ में स्लोगन भरी पट्टियां लेकर विरोध जताया. 

वर्तकनगर में ब्लाक अध्यक्ष आनंद सागले, श्रीकांत गाडीलकर के नेतृत्व में आंदोलन किया गया. मुम्ब्रा में भी मुंब्रा की प्रभाग समिति की अध्यक्षा सौ. दिपाली मोतीराम भगत के मार्गदर्शना में ब्लाक अध्यक्ष निलेश पाटिल, युवक कांग्रेस के वसीम हजरथ ने आंदोलन किया. कलवा में ब्लाक अध्यक्ष राजू शेट्टी व रविंद्र कोली सहित अन्य पदाधिकारियों ने प्रदर्शन कर सरकार के विरुद्ध नारेबाजी की. लोकमान्य नगर में ब्लाक अध्यक्ष राजू हैबती व हिन्दुराव गलवे के नेतृत्व में कांग्रेसियों ने आंदोलन कर अपना समर्थन दिया. 

शहर के मध्यवर्ती कांग्रेस कार्यालय के बाहर ब्लाक अध्यक्ष संदीप शिंदे, नरेंद्र कदम व निलेश आहिरे के मार्गदर्शन में आयोजित आंदोलन में सेवादल कांग्रेस सेवा दल के अध्यक्ष शेखर पाटिल, प्रदेश कांग्रेस कमेटी सदस्य राजेश जाधव, वरिष्ठ नेता डॉ. जेबी यादव, महासचिव मंजूर खत्री, ठाणे उपाध्यक्ष रेखा मिरजकर, महिला कांग्रेस अध्यक्ष शिल्पा सोनोने, सुखदेव घोलप, गिरीश कोली सहित बड़ी संख्या में कांग्रेसियों ने आंदोलन कर अपना समर्थन दिया. 

इस दौरान ठाणे कांग्रेस प्रवक्ता सचिन शिंदे ने केंद्र शासित भाजपा सरकार को किसान विरोधी करार देते हुए कहा कि आज करीब 10 लाख किसान दिल्ली की सीमा में डटकर आंदोलन कर रहे हैं. लेकिन भाजपा सरकार इन किसानों की मांगों पर विचार नहीं कर रही है. यह सरकार सिर्फ धनाढ्य व्यापरियों के हितों के लिए काम करती दिखाई दे रही है और आम जनता की समस्याओं से कुछ लेनादेना नहीं है. कांग्रेस इसके पहले भी किसानों और आम जनता के समस्याओं को दूर करने के लिए साथ खड़ी थी और आगे भी खड़ी रहेगी.