कोरोना मरीजों के उपचार के लिए धन की कमी नहीं : एकनाथ शिंदे

भिवंडी. भिवंडी शहर व ग्रामीण भाग में कोरोना संक्रमित मरीजों की निरंतर बढ़ते ग्राफ पर चिंता व्यक्त करते हुए ठाणे जिला पालक मंत्री एकनाथ शिंदे ने कहा कि कोरोना संक्रमित मरीजों के उत्कृष्ट उपचार हेतु शासन प्रतिबद्ध है. कोरोना मरीजों के उपचार में कोई कोर कसर नहीं छोड़ी जाएगी. महामारी से पीड़ित लोगों के उपचार हेतु अत्यावश्यक संसाधनों एवं निधि की कमी कदापि नहीं होने दी जाएगी. उक्त उद्गार व्यक्त करते हुए ठाणे जिला पालक मंत्री एकनाथ शिंदे ने मनपा मुख्यालय में शीर्ष अधिकारियों से समीक्षा बैठक कर उचित निर्देश दिया.

उक्त मौके पर महापौर प्रतिभा पाटिल, सांसद कपिल पाटिल, समाजवादी पार्टी विधायक रईस शेख, भिवंडी ग्रामीण शिवसेना विधायक शांताराम मोरे, ठाणे जिलाधिकारी राजेश नार्वेकर, शासकीय सहायक बालाजी खतगांवकर,पूर्व विधायक रुपेश म्हात्रे, पावरलूम महामंडल अध्यक्ष प्रकाश पाटिल, उपमहापौर इमरान खान, सभागृह नेता विलास पाटिल, शिवसेना गटनेता संजय म्हात्रे, भिवंडी मनपा आयुक्त डॉ. पंकज आशिया, उपविभागीय अधिकारी डा. मोहन नलदकर, पुलिस उपायुक्त राजकुमार शिंदे, तहसीलदार शशिकांत गायकवाड, शहर अभियंता एलपी गायकवाड, गटविकास अधिकारी डा. प्रदीप घोरपडे, वैद्यकीय अधिकारी डा. जयवंत धुले सहित अन्य अधिकारी मौजूद थे.

ठाणे जिला पालक मंत्री एकनाथ शिंदे ने भिवंडी मनपा का दौरा कर शहर में तेजी से फैल रहे कोरोना संक्रमण के मद्देनजर अधिकारियों की बैठक कर समग्र जानकारी प्राप्त करते हुए कहा कि कोरोना महामारी के उपचार हेतु शासन की तरफ से हर संभव मदद मुहैया कराई जा रही है. भिवंडी शहर में कोरोना मरीजों के निरंतर बढ़ते ग्राफ को नियंत्रित किए जाने हेतु शासन हर संभव मदद प्रदान करेगा.

कोरोना मरीजों का उपचार बेहद अच्छे तरीके से होने के लिए कोविड अस्पताल एवं क्वारंटाइन सेंटर की संख्या बढ़ाने की अत्यंत आवश्यकता है. भिवंडी शहर की आबादी के अनुसार शहर में कोविड अस्पताल, क्वारन्टीन सेंटर हेतु जल्द उपाय योजना जरूरी है. मरीजों के समुचित उपचार हेतु कोई भी कोताही बर्दाश्त नही की जाएगी. कोरोना वायरस संक्रमण की जांच पर विशेष ध्यान दिया जाए एवं संक्रमित पाए जाने पर फौरन उपचार की व्यवस्था किया जाना चाहिए. पालक मंत्री एकनाथ शिंदे ने कोरोना मरीजों की उपचार सुविधा हेतु 25 अत्याधुनिक एंबुलेंस भिवंडी मनपा को जल्द उपलब्ध कराए जाने का भरोसा दिया है. 

पोगांव का किया दौरा

ठाणे जिला पालक मंत्री एकनाथ शिंदे ने शीर्ष अधिकारियों की टीम के साथ पोगांव में निर्मित होने वाले कोविड अस्पताल का दौरा कर अधिकारियों से समग्र जानकारी प्राप्त किया. मनपा अधिकारियों एवं मीडिया कर्मियों द्वारा इमारत में  लीकेज होने की बात को पालक मंत्री ने बेहद गंभीरता से लेते हुए कहा कि इमारत का स्ट्रक्चरल ऑडिट  कराया जाए. स्ट्रक्चरल ऑडिट की रिपोर्ट आने पर ही अस्पताल निर्माण की आगे की कार्रवाई की जानी चाहिए जिससे कोरोना संक्रमित मरीजों को कोई असुविधा न झेलनी पड़े. सूत्रों की मानें तो पोगांव में निर्मित होने वाले अस्पताल की गोडाउन इमारत में लीकेज होने की खबर के उपरांत निर्माण कार्य खटाई में पड़ता दिखाई पड़ रहा है.