बेरोजगार नौजवानों को कोरोना योद्धा बनने का ऑफर

सिडको करेगी 300 स्वयंसेवकों को नियुक्ति 

नवी मुंबई. सिडको ने बेरोजगार नौजवानों को कोरोना योद्धा बनने का ऑफर दिया है. ऐसे नौजवान जो कोविड संक्रमण को रोकने के लिए सिडको द्वारा चलाए जा रहे कोविड जांच एवं जागरूकता कार्यक्रम का हिस्सा बनना चाहते हैं उनके लिए रोजगार का यह उत्तम अवसर पर है. दरअसल सिडको ने कोरोना योद्धा बनें, कोरोना को हराएं घोषवाक्य के साथ अभियान शुरू किया है जिसके लिए 300 स्वयंसेवकों को नियुक्ति करनी है. गुरूवार को उलवे सेक्टर 21 के आरोग्य केन्द्र एवं करंजाड़े के जिला परिषद स्कूल में सैकड़ों युवाओं ने भेंट दी और कोरोना योद्धा बनकर सेवाएं देने की इच्छा जताई.

प्रतिदिन 500 रूपए मानधन

कोरोना योद्धा बनने के लिए 10 वीं या 12वीं उत्तीर्ण होना जरूरी है.स्यवंसेवक को हैंडग्लब्स, सैनेटाईजर, मास्क और पल्स आक्सीजन आक्सीमीटर और थर्मल मीटर उपलब्ध कराए जाएंगे. यह सेवा कार्य 15 दिनों के लिए है. इस दौरान स्वयं सेवकों को हर घर में भेंट देकर वहां कोरोना महामारी को लेकर जागरूकता बढ़ाना होगी. साथ ही मधुमेह, हृदय विकार, किडनी रोग, मोटापा इत्यादि बीमारियों से ग्रसित लोगों का पता लगाना है. नागरिकों को इसके लिए जागरूक करना और कोरोना से बचाव के लिए सावधानी बरतने जैसी सूचना देने की जिम्मेदारी होगी.