Heart-wrenching: Military fired at wife, then fired at herself

कल्याण. कल्याण पश्चिम रेलवे स्टेशन के सामने नीलम गली में मटका किंग मुनिया मुन्ना उर्फ जिग्नेश ठक्कर के ऊपर  छोटा राजन गैंग के शूटरों ने फायरिंग कर हत्या किए जाने की सनसनीखेज घटना शुक्रवार की रात घटी है. इस घटना की जानकारी मिलते ही महात्मा फुले चौक पुलिस मौके पर पहुंची और जिग्नेश के शव को फोर्टिस हॉस्पिटल में भेजा गया जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया. पुलिस ने कई लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया हैं और आरोपियों की तलाश में जुट गई हैं.

जिग्नेश ठक्कर का कल्याण, उल्हासनगर और ठाणे परिसर में कई जगह मटका और रम्मी क्लब के साथ ही वह क्रिकेट मैच पर सट्टा बाजार में भी लिप्त था. ऐसी जानकारी शुरुआती जांच में सामने आयी है. गोलीबारी की घटना के समय मुन्ना उर्फ जिग्नेश ठक्कर  कल्याण स्टेशन के सामने नीलम गली परिसर स्थित अपने  क्लब परिसर ऑफिस के सामने बैठा था. अपने कार्यालय से घर जाने के लिए रात करीब 11 बजे जिग्नेश कार्यालय के बाहर आया तभी घात लगाये बैठे अज्ञात हमलावरों ने जिग्नेश ठक्कर पर 5 राउंड फायरिंग की जिनमें से 4 गोली जिग्नेश के जिस्म में समा गई और उसकी मौके पर ही मौत हो गई. फायरिंग कर हमलावर घटना स्थल से फरार हो गए. घटना की जानकारी मिलते ही महात्मा फुले चौक पुलिस घटनास्थल पहुंची और जरूरी कार्रवाई करते हुए इस मामले में नन्नू शहा जयपाल उर्फ जपान और उनके अन्य साथियों के खिलाफ मामला दर्ज कर अलग-अलग पुलिस टीम गठित कर फरार आरोपियों की तलाश करने के लिए रवाना कर दी गई है.