आज़म खान को बड़ा झटका, जौहर विश्वविद्यालय की 172 एकड़ जमीन यूपी सरकार की हुई

लखनऊ: उत्तर प्रदेश सरकार (Uttar Pradesh) के पूर्व मंत्री और जेल में बंद समाजवादी पार्टी (Samajwadi party) सांसद आज़म खान (Azam Khan) को बड़ा झटका लगा है। सोमवार को जौहर यूनिवर्सिटी (Jauhar University) की 172 एकड़ जमीन उत्तर प्रदेश सरकार (Uttar Pradesh Government) के नाम हो गई है। ज्ञात हो कि शनिवार को एसडीएम अदालत (SDM Court) ने राज्य सरकार को यह आदेश दिया था।  

ज्ञात हो कि, आज़म खान ने रामपुर में निजी जौहर यूनिवर्सिटी का संचालन करते रहे हैं। 2005 में खान ने तत्कालीन समाजवादी पार्टी सरकार से यूनिवर्सिटी के लिए जमीन खरीदने की मांग की थी। जिसके बाद सरकार ने कुछ शर्तों के साथ साढ़े 12 एकड़ से ज्यादा जमीन खरीदने की इजाजत दी थी। अपने अनुरोध में खान ने कहा था कि वह इस यूनिवर्सिटी के माध्यम से गरीब अल्पसंख्यक छात्रों को मुफ्त में शिक्षा देंगे, इसी के साथ सामाजिक कार्य किया जाएगा। 

भाजपा नेता ने की थी शिकायत

कुछ महीनों पहले भाजपा नेता आकाश सक्सेना ने प्रशासन से शिकायत की थी। जिसमें उसने कहा था की आज़म खान द्वारा लगातार नियमों का उल्लंघन कर रहा है। इसी के साथ उन्होंने जमीन को राज्य सरकार अधीन करने की मांग प्रशासन से की थी। शिकायत की जांच करने पर रामपुर प्रशासन ने आरोप को सही पाया। 

तहसीलदार ने जमीन सरकार के नाम कराई

आरोप सही पाए जाने पर प्रशासन ने अदालत में मामला दर्ज कराया। जिसके बाद शनिवार को मुख्य जगदंबा प्रसाद गुप्ता न्यायाधीश ने एसडीएम को यूनिवर्सिटी की जमीन सरकार के नाम करने का आदेश दिया। जिसके बाद जिलाधिकारी ने यह आदेश तहसीलदार को तुरंत दिया, उसके उपरांत तहसीलदार सभी जमीन को सरकार के नाम कर दी। 

आजम खान उत्तर प्रदेश में भू माफिया घोषित 

राज्य सरकार ने आज़म खान को प्रदेश के अंदर भू माफिया घोषित किया हुआ है। 2019 में उनके खिलाफ 29 किसानों ने जबरदस्ती जमीन हथियाने का मामला पुलिस में दर्ज कराया गया था। इसी के साथ जिला प्रशासन ने खान पर कोसी नदी और शत्रु संपत्ति हड़पने का भी मुकदमा दर्ज किया हुआ है।