CBI ने हाथरस मामले को किया टेकओवर, CM योगी ने की थी सिफारिश

नई दिल्ली: केंद्रीय जांच ब्यूरो (Central Bureau of Investigation) ने हाथरस मामले (Hathras Case) की जांच को अपने हाथ में ले लिया है. शनिवार को केंद्र सरकार (Central Government) की डीओपीटी विभाग के नोटिफिकेशन के बाद सीबीआई ने हाथरस केस को टेकओवर किया है. अभी तक मामले की जांच यूपी पुलिस की एसआईटी  (SIT) कर रही थी. 

ज्ञात को कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adiyanath) ने मामले में बढ़ते बवाल के बाद 3 अक्टूबर को सीबीआई जांच का आदेश दिया था. अधिकारीयों ने बताया कि, “जांच एजेंसी के लिए अधिसूचना जारी कर दी गयी है और प्राथमिकी दर्ज किए जाने के तुरंत बाद फोरेंसिक विशेषज्ञों के साथ जांच दलों को अपराध स्थल पर भेजा जाएगा.

गौरतलब है कि गंभीर रूप से घायल महिला की 29 सितंबर को दिल्ली के एक अस्पताल में मृत्यु हो गयी थी। आरोप है कि ऊंची जाति के चार लोगों ने पीड़िता के साथ बलात्कार किया था.

उकसाने और दुष्प्रचार के मामले की भी जांच 

सीबीआई ने कहा कि,” उत्तर प्रदेश सरकार ने कथित सामूहिक बलात्कार मामले के अलावा राजनीतिक हितों, मीडिया के एक हिस्से के द्वारा दुष्प्रचार की घटनाओं, जातिगत टकराव और हिंसा के लिए उकसाने की खातिर कथित आपराधिक साजिश से संबंधित प्राथमिकी में भी सीबीआई जांच की मांग की है.”

एसआईटी के पास अभी भी 6 दिन 

मामले की जांच करने के लिए योगी सरकार ने उत्तर प्रदेश पुलिस की तीन सदस्यीय एसआईटी का गठन किया था. जिसको 7 दिन के अंदर जांच कर रिपोर्ट सौपने का आदेश दिया था. लेकिन बाद में समिति को जांच करने के लिया 10 दिन का और समय दे दिया गया.