पूर्व आईएएस अधिकारी अरविंद कुमार शर्मा भाजपा में शामिल

लखनऊ: प्रशासनिक सेवा (Civil Services) से स्वैच्छिक सेवानिवृति लेने वाले गुजरात काडर (Gujarat Cadre) के पूर्व आईएएस अधिकारी अरविंद कुमार शर्मा (Arvind Kumar Sharma) बृहस्पतिवार को भारतीय जनता पार्टी (Bhartiya Janta Party) (भाजपा) में शामिल हो गये। उत्तर प्रदेश के मऊ जिले के रहने वाले 1988 बैच के आईएएस अधिकारी शर्मा को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) का करीबी माना जाता है और वह मोदी के गुजरात के मुख्यमंत्री रहते भी उनके साथ काम कर चुके हैं।

भाजपा के एक प्रवक्ता ने बताया कि शर्मा ने लखनऊ स्थित भाजपा के प्रदेश मुख्यालय में पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह और उत्तर प्रदेश के उप मुख्यमंत्री डॉक्टर दिनेश शर्मा की मौजूदगी में भाजपा की सदस्यता ग्रहण की। उत्तर प्रदेश भाजपा अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने भी ट्वीट करके कहा ‘‘आज पूर्व आईएएस अधिकारी अरविंद कुमार शर्मा का भाजपा परिवार में स्वागत किया। सबका साथ, सबका विकास और सबका विश्वास की विचारधारा से जुड़े शर्मा की कार्यक्षमता व कर्मठता से निश्चित ही पार्टी को एक नयी गति मिलेगी।”

भाजपा के प्रांतीय प्रवक्ता चंद्रमोहन ने बताया कि शर्मा ने भाजपा के साथ काम करने की इच्छा जताई थी। शर्मा ऐसे समय भाजपा में शामिल हुए हैं जब पार्टी प्रदेश विधान परिषद की 12 सीटों के लिए आगामी 28 जनवरी को होने जा रहे चुनाव के लिए प्रत्याशियों के नाम तय कर रही है।

इस सवाल पर कि क्या शर्मा विधान परिषद चुनाव में भाजपा के प्रत्याशी होंगे, चंद्रमोहन ने कहा कि उम्मीदवारों के नाम तय करने का काम केंद्रीय नेतृत्व का है। यहां अटकलें लगायी जा रही हैं कि शर्मा को भाजपा विधान परिषद के चुनाव में अपना प्रत्याशी बना सकती है और चुनाव जीतने के बाद उन्हें सरकार में कोई महत्वपूर्ण पद भी दिया जा सकता है।

शर्मा वर्ष 2001 से 2020 के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के करीबी सहयोगी अधिकारी के तौर पर काम कर चुके हैं। वह गुजरात के मुख्यमंत्री कार्यालय तथा उसके बाद प्रधानमंत्री कार्यालय में भी कार्यरत रहे हैं। उन्होंने समय से दो साल पहले ही स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति ले ली है।

सूत्रों के मुताबिक शर्मा ने अपनी प्राथमिक शिक्षा मऊ में हासिल की। उसके बाद इलाहाबाद विश्वविद्यालय से परास्नातक की डिग्री ली। उन्होंने केंद्र में कुटीर लघु एवं मझोले उद्योग मंत्रालय में सचिव के पद से स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति ली है।(एजेंसी)