File Photo
File Photo

    उत्तर प्रदेश: शादी (Wedding) से जुड़े कई  हैरान कर देने वाले मामले सामने आते रहते है। जिसे सुनकर सभी दंग रह जाते है। शादी से जुड़ा एक एक और हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है। यह मामला उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) का है। जहां दुल्हन (Bride) ने शादी में छठवे फेरे के बाद सातवें फेरे में शादी तोड़ दी। यह घटना की खबर आसपास के इलाके में आग की तरह फैल गई। हिंदू परंपरा के अनुसार शादी में दुलह-दुल्हन अग्नि के साथ फेरे लेते है और उसके बाद उनका विवाह संपन्न होता है। वहीं इसी तरह की एक घटना महोबा से सामने आई है दुल्हन ने अग्नि  के सातवें फेरे ( Bride Refused to Take the Seventh Round of Fre and Broke the Marriage) लेने से मना कर दिया और शादी तोड़ दी। 

    बता दें कि कुलपहाड़ तहसील के एक गांव में हुई एक घटना में पवित्र अग्नि के छह फेरे पूरे कर लेने के बाद दुल्हन ने बताया कि वह ये शादी तोड़ रही है। शादी में दुल्हन के परिवार और परिजनों ने उसे शादी करने के लिए मनाने की खूब कोशिश की। लेकिन दुल्हन अपने फैसले पर अटल रही। जब यह मामला बहुत गंभीर हो गया, तभी आधी रात को पंचायत को मामले में दखल देने के लिए बुलाया गया। दुल्हन ने यहां भी अपना पक्ष रखा, तो दूल्हे के रिश्तेदारों के पास वापस लौटने के अलावा कोई और रास्ता नहीं बचा।

    दुल्हन से जब पूछा गया कि शादी करने में उसकी दिलचस्पी क्यों नहीं है? तो उसने जवाब दिया कि उसे दूल्हा पसंद नहीं है। इस पर दूल्हे के पिता ने कहा कि अगर दुल्हन शादी के लिए तैयार ही नहीं थी, तो वह जयमाल सहित शादी की अन्य रस्मों में शामिल ही क्यों हुई। शादी की बाकी सभी रस्में आराम से सम्पन्न हुई थी।  शादी वाले दिन भी सुबह से कोई तनाव या बहस नहीं हुआ था. सभी खुश थे. ये सब अचानक से हो गया।