कृषि केंद्रों पर रहेंगी पैनी नजर, 9 उडण दस्ते तैनात

    • शिकायत निवारण कक्ष स्थापन

    वर्धा. जिले में कृषि निविष्ठा गुणनियंत्रण व कृषि केंद्रों की जांचपडताल के लिए जिला व तहसीलस्तर पर उडण दस्तो की पैनी नजर रहेगी़ उक्त दस्ते बीज व खाद की कालाबाजारी पर ध्यान देगे़ इसके अलावा किसानों की शिकायतों को निपटाने के लिए जिला व तहसीलस्तर पर शिकायत निवारण कक्ष भी स्थापन किया गया है़ 

    बता दे कि, जिले में बारिश ने समय पर दस्तक देने से किसानों ने खरिफ की प्री मानसून बुआई शुरु कर दी है़ दूसरी ओर कृषि केंद्रों पर किसान बीज व खाद की खरिदारी करने पहुंच रहे है़ इस दौरान किसानों से धोखाधडी न हो तथा उन्हें एमआरपी से अधिक मूल्य में खाद तथा बीज की बिक्री न हो, इस लिए कृषि विभाग ने ठोस कदम उठाये है़ किसान अपने पसंदीदा कंपनी के बीजो की मांग करते नजर आ रहे है़.

    परंतु उक्त बीज उपलब्ध न होने के कारण उनकी भागमभाग हो रही है़ दूसरी ओर कृषि विभाग ने जिले में बीज व खाद की कोई कमी नहीं खलेंगी, ऐसा दावा किया है़ इसी बीच कृषि सामग्री की गुणवत्ता व कृषि केंद्रों की जांच के लिए जिलास्तर पर 1 व तहसीलस्तर पर 8 कुल 9 उडण दस्ते नियुक्त किये गए है़

    इसमें जिलास्तर के दस्ते में कृषि विकास अधिकारी, मुहिम अधिकारी, जिला गुणनियंत्रक निरीक्षक, वजन माप निरीक्षक का समावेश रहेंगा़ तहसीलस्तर पर तहसील कृषि अधिकारी, कृषि अधिकारी पंस, मंडल कृषि अधिकारी व वजन माप निरीक्षक का समावेश रहेंगा़ इसके अलावा जिला व तहसीलस्तर पर शिकायत निवारण कक्ष स्थापन किया गया है़ इसके क्रमांक हर कृषि केंद्र पर लगाये गए है़

    जिलास्तर पर मुहिम अधिकारी, जिला गुणनियंत्रक निरीक्षक व कृषि विकास अधिकारी की नियुक्ती की गई़ वहीं तहसीलस्तर पर तहसील कृषि अधिकारी, पंस कृषि अधिकारी की नियुक्ती की गई है़ इसके अलावा किसान 18002334000 व 07152-250099 इस टोल फ्री क्रमांक पर भी संपर्क कर सकता है़ शिकायत निवारण समिती किसानों की शिकायतों का निपटारा करेंगी, ऐसा भी बताया गया़ 

    किसान करें शिकायत

    कृषि निविष्ठा पर्याप्त मात्रा में उपलबध न होने अथवा कृषि केंद्र से अधिक मूल्य में बिक्री होने पर इसकी शिकायत करें. कुछ समस्या रहने पर टोल फ्री क्रमांक पर संपर्क करें.साथ ही बीटी कपास बीजो के संबंध में किसान किसी भी अफवाह पर विश्वास न करें.-संजय बमनोटे, कृषि विकास अधिकारी, जिप