नानाजी देशमुख प्रतिष्ठान ने दिवाली निमित्त मनाए विविध उपक्रम

आर्वी. नानाजी देशमुख प्रतिष्ठान पुणे और आर्वी ने दिवाली अवसर पर विभिन्न सामाजिक गतिविधियों का आयोजन किया.आर्वी तहसील के इठलापुर, अहिरवाडा, सर्कसपुर, निंबोली(शेंडे)व हिवरा(रा.) में जिला परिषद स्कूलों के छात्रों को 201 गुणवत्तावालें कार्यालय बैग वितरित किए गए.जिला परिषद स्कूलों में पढने वाले छात्र आम तौर पर गरीब और जरूरतमंद परिवारों से होते है. इसलिए देहांतो में पढनेवाले छात्र पॉलिथीन अथवा थैले में किताबें लेकर जाते है.

शहर में अंग्रेजी माध्यम में पढ़ने वाले छात्र आमतौर पर बच्चे को सभी सुविधाएं आसानी से प्रदान कर सकते हैं क्योंकि यह माता-पिता की स्थिति पर निर्भर है लेकिन गांव में छात्रों को सुविधाएं देने के लिए माता-पिता को कड़ी मेहनत करनी पड़ती है. इसे ध्यान में रखते हुए नानाजी देशमुख पुणे ने इस साल 2010 बैग वितरित किए.तथा दीवाली अवसर पर आर्वी तहसील के आदिवासी बहुल गांव में सभी परिवारों को नाश्तें के पैकेट व रूमाल बांटे.

हर साल नानाजी देशमुख प्रतिष्ठान के अध्यक्ष संजय पांडे के मार्गदर्शन में नानाजी देशमुख प्रतिष्ठान ने जरूरतमंदों को स्कूल और सामाजिक रूप से उपयोगी सामान प्रदान करने का निर्णय लिया है. इस अवसर अश्विन शेंडे, जितेंद्र ठाकरे, निखिल कडू उप सरपंच सर्कसपुर, दिनेश डेहनकर सरपंच इठलापुर, अशोक कोल्हे पूर्व सैनिक, राणी गोरले ग्राम पंचायत सदस्य सर्कसपुर, दिगंबर सोलव ग्राम पंचायत सदस्य सर्कसपुर, अमोल शेंडे, दीपक शेंडे, दीपांशु ठाकरे, अनिरुद्ध होनाडे, जयकुमार ठाकरे, पंडित राउत, राजेश सावरकर सरपंच, अशोक बोबड़े ग्राम विकास अधिकारी, सुमित भस्मे, सचिन बिडवाईक आदि उपस्थित थे.