Corona test

    वर्धा. जिले में कोरोना मरीजों के आंकड़े बढ़ते देख प्रशासन ने टेस्ट बढ़ाने का निर्णय लिया. आरटीपीसीआर के साथ ही प्रशासन ने पीएचसी स्तर पर एंटीजन टेस्ट शुरू कर दी. जिले में अब तक 74 हजार 177 लोगो की टेस्ट हुई, इसमें करीब 4 हजार 631 कोरोना बाधित पाये गए है. फरवरी में कोरोना का संक्रमण अधिक फैलने से जिला प्रशासन ने एंटीजन टेस्ट बढ़ा दी है.

    जिले में शुरूआती दिनों में कोरोना को रोकने में जिला प्रशासन सफल रहा. परंतु आर्वी तहसील के हिवरा तांडा में पहला कोरोना पाजिटिव मिला. इसके बाद करीब डेढ़ माह तक कोरोना के मरीज नहीं के मात्रा में थे. परंतु जुलाई माह से मरीजों की संख्या जिले में बढ़ने लगी. बढ़ती संख्या को देखते हुए प्रशासन ने जिलें में एंटीजन टेस्ट बढ़ा दी है. डोअर टु डोअर पहुंचकर नागरिकों से जांच करवाने का आह्वान किया गया.

    नागरिकों से जांच करवाने का आह्वान

    जुलाई से अक्टूबर तक कोरोना मरीज बड़ी मात्रा में पाये गए. इसके नवंबर से जनवरी के दौरान मरीजों की संख्या में कमी देखी जा रही थी. परंतु फरवरी माह में फीर एक बार मरीजों की संख्या बढ़ने से प्रशासन ने कोरोना टेस्ट भी बढ़ा दी है. प्रतिदिन एक हजार के करीब नागरिकों की टेस्ट हो रही है. जिले में अब तक 74 हजार 177 एंटीजन टेस्ट की गई, जिसमें 4,631 बाधित पाये गए है. 

    लैब में भेजे 58,280 नमूने

    दूसरी ओर जिले में अब तक 58 हजार 280 लोगों की आरटीपीसीआर टेस्ट की गई़  उनके नमूने सेवाग्राम की लैब में भेजे गए. इनमें से अब तक 6,641 बाधित पाये गए है. जिले का वर्तमान पाजिटिविटी रेट 9.35 फीसदी बताया गया है. 

    17,310 ने लगाया टीका

    जिले में कोरोना टीकाकरण के लिए 27 हजार 123 फ्रंटलाइन वर्करों का पंजीयन किया गया. इसमें से 20 फरवरी तक 17 हजार 310 को पहला डोज दिये जाने की जानकारी स्वास्थ्य प्रशासन ने दी. शेष कर्मियों का टीकाकरण चल रहा है. 

    तहसीलवार एंटीजन टेस्ट

    तहसील          टेस्ट बाधित
    वर्धा            2735 1986
    हिंगनघाट     16,898 1179
    आर्वी        5414 252
    देवली          9199 421
    समुद्रपुर        4732 132
    सेलू          4633   202
    कारंजा       3593   273
    आष्टी          2356 186
    टेस्ट 74177 4631