Thousands of hands empty in Melghat - less work in MNREGA, more workers

वाशिम. जिले में बाल कामगार प्रथा के खिलाफ 7 नवबंर से 7 दिसबंर तक जागरुकता अभियान चलाया जा रहा है़ इस अभियान का शुभारंभ निवासी उपजिलाधिकारी शैलेश हिंगे के हाथों किया गया़ इस अवसर पर जिला अधीक्षक

वाशिम. जिले में बाल कामगार प्रथा के खिलाफ 7 नवबंर से 7 दिसबंर तक जागरुकता अभियान चलाया जा रहा है़ इस अभियान का शुभारंभ निवासी उपजिलाधिकारी शैलेश हिंगे के हाथों किया गया़ इस अवसर पर जिला अधीक्षक कृषि अधिकारी शंकर तोटावार, जिला स्वास्थ अधिकारी ड़ा़ अविनाश आहेर सरकारी कामगार अधिकारी गौरव नालिंदे, जिला महिला व बालविकास कार्यालय के राठोड़ समेत चाईल्ड़ लाइन के प्रतिनिधि उपस्थित थे़

– संदेश बोर्ड़ का अनावरण

इस अवसर पर निवासी उपजिलाधिकारी शैलेश हिंगे के हाथों बाल कामगार प्रथा खिलाफ संदेश देनेवाले बोर्ड़ का अनावरण भी किया गया़ नालींदे ने एक महिने तक चलाए जानेवाले इस अभियान की जानकारी संबधित विभाग को दी़ इस अभियान के दौरान जिले के बालकामगार बहुल क्षेत्र निर्धारित कर जांच करना, संबधित मालिकों से बालकामगार को काम पर न रखने बाबत गारंटी पत्र लिया जाएगा़ उसी प्रकार से जिले के होटल असोशिएशन के बैठक में, व्यापारी मंड़ल की चर्चा सत्र लेकर जागरुकता करना, महामार्ग के विविध ढाबे पर जांच करना, सामूहिक शपथ लेना, जागरुकता पर प्रतियोगिता का आयोजन करना, प्रचार प्रसिध्दी करना आदि उपक्रम चलाए जाएंगे़

हिंगे ने कहा कि, बाल कामगार प्रथा के खिलाफ प्रभावी ढंग से जागरुकता करने के लिए चलाए जाने वाले इस अभियान में शासकीय विभागों ने सक्रीय हिस्सा लेना चाहिए़ सरकारी कामगार अधिकारी कार्यालय ने सभी शासकीय विभाग का सहयोग लेकर इस अभियान को सफल बनाए़