Schools will not start in September also, teacher friend campaign in Manpa and ZP

वाशिम. समग्र शिक्षा अभियान अंर्तगत सन 2019-20 के शैक्षिक सत्रों में देय शाला अनुदान जिले की 773 शालाओं के 95 लाख रुपयो का अनुदान प्राप्त हुआ है़ लेकिन इस महंगाई के दौर में यह अनुदान की राशी कम होने

वाशिम. समग्र शिक्षा अभियान अंर्तगत सन 2019-20 के शैक्षिक सत्रों में देय शाला अनुदान जिले की 773 शालाओं के 95 लाख रुपयो का अनुदान प्राप्त हुआ है़ लेकिन इस महंगाई के दौर में यह अनुदान की राशी कम होने से शक्षिक,मुख्याध्यापको मे नाराजगी व्यक्त की जा रही है़ समग्र शक्षिा अभियान अंर्तगत सन 2018-19 में राज्य प्रकल्प संचालक,प्राथमिक शक्षिण परिषद के मार्गदर्शक सूचना के अनुसार अनुदान विरतण करने की सूचना है़ इसके अनुसार राज्य भर में जिला परिषद के मुख्यकार्यकारी अधिकारी के आदेश नुसार शक्षिा विभाग के माध्यम से यह अनुदान संबधित शालाओं को वितरित किया गया़.

वाशिम जिले में यह प्रक्रीया पूर्ण होकर इस बाबत अहवाल 31 दिसबंर के पूर्व गट शक्षिण अधिकारीयो ने प्राथमिक शिक्षा विभाग को प्रस्तुत करने की सूचना प्राथमिक शिक्षण अधिकारी अंबादास मानकर ने दिए है़ शालेय स्टेशनरी, अलमारी, टेबल, दुरुस्तीया, इलेक्ट्रि बिल समेत कुल 24 बातों के लिए समग्र शिक्षा अभियान से शालाओं को विद्यार्थी संख्या के अनुसार अनुदान वितरित किया जाता है़ वाशिम जिले के 773 शलाओं के लिए शासन से केवल 95 लाख रुपये अनुदान प्राप्त होने से औसतन एक शाला के लिए केवल 12 हजार रुपये ही आ रहे है़ जिससे शालाओं के दैन दैन आवश्यकता पूर्ण करने के मुख्याध्यापकों को एक प्रकार से कसरत ही करने की संभावना से शक्षिको व मुख्याध्यापकों में नाराजगी व्यक्त की जा रही है़

वितरण इस प्रकार से हुआ
शाला ओं की विद्यार्थी संख्या 1 से 30 तक रहनेपर उनको प्रतिशाला 5 हजार रुपये,विद्यार्थी संख्या 31 से 60 रहनेपर 10 हजार रुपये, विद्यार्थी संख्या 61 से 100 तक रहनेपर 25 हजार रुपये,विद्यार्थी संख्या 101 से 250 रहने पर 50 हजार रुपये, विद्यार्थी संख्या 251 से 1000 रहने पर 75 हजार रुपये व विद्यार्थी संख्या 1000 से अधिक रहने पर 1 लाख रुपये दिए जाएगे़