Bill passed to tackle racial hate crimes in America

वाशिंगटन: अमेरिका (America) के नवनिर्वाचित राष्ट्रपति जो बाइडन (Joe Biden) और नवनिर्वाचित उपराष्ट्रपति कमला हैरिस (Kamala Harris) ने भारतीय-अमेरिकी (Indian-American) वनीता गुप्ता (Vanita Gupta) समेत प्रतिष्ठित नागरिक अधिकार कर्मियों के साथ बैठक में नस्ली समानता बढ़ाने और अमेरिका का प्रतिनिधित्व करने वाली विविध कैबिनेट बनाने की प्रतिबद्धता दोहराई।

बाइडन (78) और हैरिस (56) 20 जनवरी को कार्यभार संभालेंगे। बाइडन के सत्ता हस्तांतरण दल ने मंगलवार को हुई बैठक की जानकारी देते हुए कहा कि उन्होंने नस्ली समानता बढ़ाने, नागरिक अधिकारों को लागू करने और अमेरिका का प्रतिनिधित्व करने वाले व्हाइट हाउस (White House) और कैबिनेट (Cabinet) की गठन समेत अपनी संयुक्त प्राथमिकताओं पर चर्चा की।

बताया गया है कि, ‘‘उन्होंने यह सुनिश्चित करने की आवश्यकता पर बल दिया कि लोगों को नवनिर्वाचित राष्ट्रपति की ओर से विभिन्न पदों के लिए नामित लोगों की ऐतिहासिक विविधता का पता चले। इसमें यह सुनिश्चित करने के लिए समुदाय को एकजुट करने की आवश्यकता पर भी बात की गई कि सीनेट नामित उम्मीदवारों की पुष्टि करे।”

बाइडन ने अगले व्हाइट हाउस और कैबिनेट के कई पदों के लिए अफ्रीकी-अमेरिकियों (African-American) और भारतीय-अमेरिकियों (Indian-American) समेत विविध समुदाय के लोगों को नामित किया है। इस बैठक में ‘लीडरशिप कान्फ्रेंस ऑन सिविल राइट्स ऐंड ह्युमन राइट्स’ की सीईओ एवं अध्यक्ष वनीता गुप्ता और ‘नेशनल कोलिशन ऑन ब्लैक सिविक पार्टिसिपेशन’ की अध्यक्ष मेलानी कैम्पबेल समेत नागरिक अधिकारकर्मी ने भाग लिया।