Pakistan summons Indian diplomat over 'ceasefire violation'

इस्लामाबाद: पाकिस्तान (Pakistan) ने शुक्रवार को भारतीय उच्चायोग (Indian High Commission) के एक वरिष्ठ राजनयिक को तलब कर भारतीय सुरक्षा बलों द्वारा नियंत्रण रेखा (एलओसी) (LOC) से लगे क्षेत्रों में कथित संघर्षविराम उल्लंघनों को लेकर अपना विरोध दर्ज कराया।

पाकिस्तान के विदेश कार्यालय ने एक बयान में कहा कि भारतीय सुरक्षा बलों ने बृहस्पतिवार को हॉटस्प्रिंग (Hotspring) और जंदरोट सेक्टरों (Jandrot Sector) में ‘‘बिना किसी उकसावे के गोलीबारी की”।  इससे अंदराला नार गांव में 15 वर्षीय इरुम रियाज, 26 वर्षीय नुसरत कौसर और 16 वर्षीय मुखील गंभीर रूप से घायल हो गए।

पाकिस्तानी विदेश कार्यालय ने आरोप लगाते हुए कहा कि भारतीय बल ‘‘नियंत्रण रेखा और कामकाजी सीमा से लगे इलाकों में लगातार नागरिक आबादी वाले क्षेत्रों को निशाना बनाते हुए गोले दाग रहे हैं, मोर्टार दाग रहे हैं और स्वचालित हथियारों से गोलीबारी कर रहे हैं।”

बयान में दावा किया गया कि इस वर्ष संघर्षविराम उल्लंघन की 2280 घटनाओं में 18 व्यक्ति मारे गए हैं और 183 घायल हुए हैं। पाकिस्तानी विदेश कार्यालय ने कहा कि भारतीय पक्ष से आह्वान किया गया कि वह 2003 के संघर्षविराम समझौते का सम्मान करे, इस मामले तथा जानबूझकर किये गए अन्य संघर्षविराम उल्लंघनों की जांच करे तथा नियंत्रण रेखा एवं कामकाजी सीमा पर शांति बनाये रखे। (एजेंसी)