Saudi Arabia and Bahrain took a big decision, expelled the ambassadors of Lebanon
File

    दुबई: अमेरिका (America) और सऊदी अरब (Saudi Arabia) के आतंकवाद विरोधी संयुक्त प्रयासों की निगरानी में मदद करने वाले एक पूर्व वरिष्ठ सऊदी सुरक्षा अधिकारी ने आरोप लगाया है कि देश के क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान (Crown Prince Mohammed bin Salman) ने अपने पिता के शाह बनने से पहले तत्कालीन शाह की हत्या करने की बात कही थी। हालांकि, पूर्व अधिकारी साद अल-जाबरी ने ‘सीबीएस न्यूज’ द्वारा रविवार को प्रसारित कार्यक्रम ‘60 मिनट्स’ में दिए साक्षात्कार में अपने दावे के समर्थन में कोई प्रमाण नहीं दिया।

    खुफिया विभाग के पूर्व अधिकारी कनाडा में निर्वासित जीवन बिता रहे हैं। उन्होंने आरोप लगाया कि 2014 में प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान ने कहा था कि वह शाह अब्दुल्ला की हत्या कर सकते हैं। उस वक्त प्रिंस मोहम्मद सरकार में किसी वरिष्ठ भूमिका में नहीं थे। शाह अब्दुल्ला के निधन के बाद उनका स्थान जनवरी 2015 में शाह सलमान ने लिया।

    अल-जाबरी ने इस साक्षात्कार के जरिए प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान को चेतावनी दी कि उनके पास एक वीडियो है जो शाही घराने से जुड़े कई राज और अमेरिका से संबंधित गोपनीय बातों का खुलासा करता है। अल-जाबरी (62) ने कहा, ‘‘क्राउन प्रिंस तब तक चुप नहीं बैठेंगे, जब तक वह मुझे मरता हुआ न देख लें क्योंकि वह मेरे पास मौजूद सूचनाओं से भयभीत हैं।”

    अल-जाबरी ने प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान को ‘‘मनोरोगी, कातिल” करार दिया। वहीं, सऊदी सरकार ने ‘सीबीएस न्यूज’ से कहा कि अल-जाबरी ‘‘एक बदनाम पूर्व सरकारी अधिकारी हैं, जिनका अपने वित्तीय अपराधों को छिपाने के लिए मनगढंत कहानियां गढ़ने और ध्यान भटकाने का एक लंबा इतिहास रहा है।

    सरकार ने अल-जाबरी के प्रत्यर्पण के लिए अनुरोध किया है और इंटरपोल नोटिस जारी किया है, जिसमें आरोप लगाया गया है कि वह भ्रष्टाचार के आरोपों में वांछित हैं, जबकि अल-जाबरी का दावा है कि उन्होंने यह दौलत शाहों की सेवा के दौरान अर्जित की है।