Israel's delegation made a historic visit to Morocco, America negotiated agreements with four countries in Arab for Israel

रबात (मोरक्को): इज़राइल (Israel) और मोरक्को (Morocco) के इस महीने की शुरुआत में पूर्ण राजनयिक संबंध स्थापित करने पर सहमति के बाद दोनों देशों के बीच उड़ान भरने वाले पहले विमान में व्हाइट हाउस (White House) के वरिष्ठ सलाहकार जारेड कुशनर (Jared Kushner) के नेतृत्व में एक प्रतिनिधिमंडल मोरक्को पहुंचा।

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (President Donald Trump) के दामाद कुशनर ने संयुक्त अरब अमीरात (United Arab Emirates), बहरीन (Bahrain), सूडान (Sudan) और मोरक्को के साथ इज़राइल के संबंध सामान्य करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी और कई ऐतिहासिक समझौते भी किए, जिसके तहत इन्हें वाशिंगटन (Washington) से कई फायदे भी मिले।

समझौते के तहत अमेरिका (America) ने पश्चिमी सहारा के विवादित क्षेत्र पर मोरक्को के दावे को भी मान्यता प्रदान की है, जिसे संयुक्त राष्ट्र मान्यता नहीं देता है। कुशनर के साथ इज़राइल के प्रतिनिधिमंडल के प्रमुख एवं राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार मीर बेन-शब्बत भी मौजूद थे। दोनों ने मोरक्को के किंग मोहम्मद VI (King Muhammad IV) और अन्य शीर्ष अधिकारियों से मुलाकात की। कुशनर ने पत्रकारों से बात करते हुए इस बैठक को ‘‘बेहद फलदायक” बताया।

उन्होंने कहा, ‘‘ मोरक्को और इज़राइल पूर्ण राजनयिक संबंधों को फिर से शुरू करने, आर्थिक सहयोग को बढ़ावा देने और अपने सम्पर्क कार्यालयों को फिर से खोलने के लिए अपनी प्रतिबद्धताओं पर काफी उन्नति कर रहे हैं।” कुशनर ने पश्चिमी सहारा में मोरक्को की सम्प्रभुता को मान्यता देने के अमेरिका के फैसले को भी सही ठहराते हुए कहा, वह ‘‘ उस असफल यथास्थिति को अस्वीकार करना था, जिससे किसी को फायदा नहीं पहुंच रहा था।”

उन्होंने क्षेत्र के लोगों को व्यापक स्वायत्तता देने के प्रस्ताव को लागू करने के लिए संयुक्त राष्ट्र के साथ काम करने का दोनों पक्षों से आह्वान किया। कुशनर ने कहा, ‘‘ वास्तविक स्वायत्तता एकमात्र संभव विकल्प है, लेकिन इस पर काम करना होगा।”