File Photo
File Photo

  • 430 कोरोनामुक्त

यवतमाल. जिले में गत 24 घंटों में 14 कोरोना पीड़ितों की मौत हो गई. जबकि 382 नये पाजिटिव मरीज मिले हैं. रविवार को वसंतराव नाईक शासकीय वैद्यकीय महाविद्यालय के आइसोलेशन वॉर्ड, विविध कोविड केअर सेंटर व कोविड हेल्थ सेंटर में भर्ती 430 ने कोरोना पर मात करने से उन्हें अस्पताल से डिस्चार्ज दिया गया.

जिप के स्वास्थ्य विभाग की ओर से मिली रिपोर्ट के अनुसार मृतकों में यवतमाल के 72, 79, 80, 45, 50, 58, 83 वर्षीय पुरुष व 63 वर्षीय महिला, पुसद की 85 वर्षीय महिला, महागांव के 78 वर्षीय पुरुष, दारव्हा के 51 वर्षीय पुरुष, दिग्रस के 40 वर्षीय महिला, केलापुर तहसील की 26 वर्षीय महिला एवं माहुर जिला नांदेड की 50 वर्षीय महिलेचा का समावेश हैं.

नए से पाजिटिव 382 मामलों में 267 पुरुष और 115 महिला है. इनमें यवतमाल के 184, पुसद 48, दिग्रस 47, वणी 34, उमरखेड़ 17, कलंब 14, महागाव 10, दारव्हा 8, पांढरकवडा 6, नेर 4, घाटंजी 4, झरी 2, आर्णी 1, मारेगाव 1, रालेगाव 1 आणि 1 अन्य शहर का मरीज शामिल है.

2,036 एक्टिव मरीज 

कुल 5,020 रिपोर्ट प्राप्त हुई. इनमें 382 लोग नए पाजिटिव तो 4,638 लोगों की रिपोर्ट निगेटिव प्राप्त हुई है. जिले में वर्तमान में 2036 एक्टिव पाजिटिव मरीज है. तथा अबतक कुल पाजिटिव मरीजों की संख्या 24,593 हो गई. 24 घंटे में 430 लोग कोरोनामुक्त होने से जिले में स्वस्थ होनेवालों की कुल संख्या 21,997 हो गई. जिले में कुल  560 कोरोनाबाधितों की मौत की संख्या दर्ज है.

शुरुआत से लेकर अबतक 231968 सैंपल जांच के लिए भेजे गए. इनमें से 220600 प्राप्त तो 11,368 अप्राप्त है. 19,6007 नागरिकों के सैंपल अबतक निगेटिव निकलने की जानकारी जि. प. स्वास्थ्य विभाग ने दी है.

नियमों का कड़ाई से पालन करें

कोरोना वायरस रोगियों की दिन-प्रतिदिन बढ़ती संख्या को देखते हुए नागरिकों को सरकार और प्रशासन के दिशा-निर्देशों का पालन करना चाहिए. नियमित रूप से मास्क, सामाजिक दूरी, बार-बार हाथ धोना, भीड़ से बचना आदि को सख्ती का पालन किया जाना चाहिए, ऐसा आह्वान जिलाधिकारी ने किया है.