शहर के प्रलंबित कार्यों में तेजी लाएं, सांसद भावना गवली ने शहर का सर्वेक्षण कर लिया जायजा

बाभुलगांव. कोरोना काल के दौरान काम पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ा है. राज्य सरकार इस स्थिति से उबरने के लिए कड़ी मेहनत कर रही है. यवतमाल-वाशिम लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र से सांसद भावना गवली ने तालुका के मुख्य अधिकारियों से लंबित कार्यों को शीघ्र पूरा करने के लिए सकारात्मक कदम उठाने की अपील की है. सांसद गवली ने सोमवार  को स्थानीय नगर पंचायत हॉल में बाबुलगांव शहर और तालुका का निरीक्षण कर जायजा लिया. इस समय तहसीलदार आनंद देऊलगावकर, गुटविकास अधिकारी रमेश दोडके, नगर पंचायत के मुख्याधिकारी महेशकुमार जामनोर, नगराध्यक्ष बालासाहब गौरकार, लोक निर्माण विभाग के उप-विभागीय अभियंता एस. एस. नरेंद्र चामाटे उपस्थित थे. 

प्रधानमंत्री आवास शहरी योजना के अंतर्गत बाभुलगांव के 68 घरकुल मंजूर हुए है. इनमें 35 घरकुलों के निर्माणकार्य को अनुमति मिली होकर 24 लाभार्थियों ने घरकुल का कार्य पूर्ण भी कर लिया है. हालांकि, 1.5 लाख रुपए शेष किस्त अभी अप्राप्त होने से लाभार्थियों से उर्वरिक्त किस्त के की मांग कर रहें होने की बात जायजा बैठक में कहीं. सांसद भावना गवली ने कहा कि शेष किस्तों के लिए सरकार प्रयास करेगी. इस समीक्षा बैठक में शहर में लगातार बिजली चोरी का मुद्दा उठाया गया है। साथ ही, साथ ही बाभुलगांव-कलंब मार्ग का कार्य उन्नति रहनेवाले मार्गों के निर्माणकार्य के साथ चौराहो पर यात्री निवारा, प्रसाधनगृह के निर्माण की मांग शिवसैनिकों ने की है.

समीक्षा बैठक में, कोविड -19, प्रधान मंत्री आवास योजना, प्रधानमंत्री स्वनिधि योजना, मेरा परिवार, मेरी जिम्मेदारी आदि विषयों की समीक्षा की गई. इस समय यवतमाल पालीका के पार्षद तथा यवतमाल सेना शहर प्रमुख पिंटू बांगर, तहसील प्रमुख वसंता जाधव, शहर प्रमुख विक्रम ब-हाणपुरे, पार्षद रवि काले, अभय तातेड, अंकित खंते, चंद्रशेखर केलतकर, विकास गर्जे, विजय भेंडे, विक्रम लाकडे, धनराज शेंडे, अंकीत नंदनवार, चंदु अडेकार, धिरज रुमाले, बंढू ढोबले, श्रीराम मुडे आदि उपस्थित थे.