उमरखेड तहसील महिलाओं पर बढते अत्याचार पर लगाम लगाए

  • जिजाऊ ब्रिगेड द्वारा जिला पुलिस अधिक्षक को सौंपा ज्ञापन

उमरखेड. उमरखेड तहसील में महिलाओं के खिलाफ अत्याचार की बढती घटनाओं के कारण हाल ही में जिजाऊ ब्रिगेड द्वारा जिला पुलिस अधिक्षक को ज्ञापन सौंपा गया. दोषियों को जल्द से जल्द गिरफ्तार करने, नहीं तो तीव्र आंदोलन करने की चेतावनी जिजाऊ ब्रिगेड ने सौंपे ज्ञापन दी है.

उमरखेड तहसील में दो गंभीर मामलों में तरोड की 10 वर्षिय नाबालीग पर 25 वर्षिय दुष्कर्मी युवक ने पैसों का लालच दिखाकर दुष्कर्म किया, यह घटना ताजी रहते समय पोफाली में 30 वर्षिय महिला पर चार लोगों ने दुष्कर्म करने की घटना घटी,  पीडिता को पोफाली पुलिस से अच्छा बर्ताव नहीं मिला और पांच दिनों बाद आरोपियों के खिलाफ मामले दर्ज किए गए, अत्याचार के लिए न्याय पाने के लिए और उससे पहले 12 मार्च को हातला में 8 वर्षिय मासूम बच्ची की दुष्कर्म कर बेरहमी से हत्या कर दी गई, सुकली चिल्ली में दो महिलाओं पर दुष्कर्म की घटना आदि लगातार घटना के चलते उमरखेड तहसील में महिलाओं पर अत्याचारों की घटनाओं में वृद्धि होने से पुलिस प्रशासन के काम पर सवालिया निशान खडा कर दिया है. इस  संबंध में, जिजाऊ ब्रिगेड द्वारा जिला पुलिस अधिक्षक को ज्ञापन सौंपकर बार-बार हों रहीं अत्याचारों की घटनाओं पर अंकुश लगाने और आरोपियों के खिलाफ कडी कार्रवाई करने, नहीं तो पीडित परिवारों के लोगों को साथ में लेकर जिजाऊ ब्रिगेड द्वारा तीव्र आंदोलन करने की चेतावनी देकर, होनेवाले परीणामों को पुलिस प्रशासन जिम्मेदार रहेगा, ऐसा सौंपे ज्ञापन से स्पष्ट किया गया है. 

इस अवसर पर जिजाऊ ब्रिगेड की जिलाध्यक्ष सरोजताई देशमुख, उपाध्यक्षा शितलताई तेलंग, उपाध्यक्षा अवनिताताई चौधरी, रेखाताई फलटणकर व अनिताताई वानखेडे आदि महिलाएं उपस्थित थी.