संगमनेर की नई कोर्ट इमारत का निरीक्षण

  • राजस्वमंत्री बालासाहेब थोरात ने कामकाज देखा

अहमदनगर. संगमनेर के न्यायालयों का कामकाज एकत्रित और सुविधाओं से युक्त कराने लिए संगमनेर के घुलेवाडी परिसर में न्यायालय के लिए आधुनिक इमारत के निर्माण का काम तेजी से पूरा किया जा रहा है. राजस्वमंत्री बालासाहब थोरात ने इस नई इमारत स्थल का दौरा कर निर्माण काम का निरीक्षण किया. जल्द ही संगमनेर के सभी न्यायालयों का कामकाज इस आधुनिक और सुसज्जित इमारत में शुरू होगा. ऐसा प्रतिपादन राजस्वमंत्री थोरात ने किया.

 घुलेवाडी में बन रही इमारत

घुलेवाडी परिसर में न्यायालय इमारत के निर्माण कार्य का निरीक्षण करते समय राजस्वमंत्री थोरात समेत तहसील अध्यक्ष बाबा ओहोल, सभापति सुनंदा जोर्वेकर,विश्वास मुर्तडक,दिलीप पुंड,वकील संघ के अध्यक्ष एड. सुहास आहेर, जिला परिषद सदस्य अजय फटांगरे, के.के.थोरात, बार असोसिएशन के अध्यक्ष एड.सुनील गाठे, एड.त्र्यंबक गडाख, एड.सचिन डुबे, एड. नानासाहब शिंदे, घुलेवाडी के सरपंच सोपान राऊत, वंदना गुंजाल, कैलाश पानसरे, सुभाष सांगले, प्रांत अधिकारी शशिकांत मंगरुले,तहसीलदार अमोल निकम,उपविभागी. पुलिस अधिकारी रोशन पंडित,सुनील पाटिस,अभय परमार आदि उपस्थित थे.

कुल न्यायालयों की संख्या 16 होने की संभावना

संगमनेर तहसील न्यायालय में 3 जिला न्यायाधीश, एक दिवानी न्यायाधीश, 5 वरिष्ठस्तर न्यायाधीश, 5 दिवानी न्यायाधीश ऐसे कोर्ट कार्यरत है. न्यायालयों में लंबित मामलों की संख्या दिनोंदिन बढ़ रही है. आनेवाले समय में संगमनेर में औद्योगिक न्यायालय और कामगार न्यायालय भी शुरू होने की उम्मीद है. इस कारण संगमनेर में कुल न्यायालयों की संख्या 16 होने की संभावना है. इन बातों के मद्देनजर सभी न्यायालय एक ही इमारत में लाने के लिए राजस्वमंत्री बालासाहब थोरात के मार्गदर्शन में घुले वाडी परिसर में न्यायालय के लिए नई इमारत के निर्माण का काम शुरू किया गया था.न्यायालय इमारत के लिए मंत्री थोरात ने विशेष प्रयास करते 33 करोड़ रुपए की निधि भी उपलब्ध कराई है. उसी तरह वकील संघ के लिए भी स्वतंत्र जगह का नियोजन किया है. न्यायालय की इस नई इमारत में वाहनों के पार्किंग की सुविधा, अखंड हिजली आपूर्ति के लिए जनरेटर, अंदरुनी रास्ते, संरक्षक दीवार आदि का प्रबंध किया है.