अहमदनगर में ‘मिनी लाकडाउन’ का विरोध

    अहमदनगर. अहमदनगर शहर (Ahmednagar City) के प्रमुख बाजार मोची गली व्यापारी एसोसिएशन की ओर से राज्य सरकार द्वारा लागू किए गए मिनी लाकडाउन (Mini Lockdown) के विरोध में आंदोलन (Protest) किया गया। मोची गली स्थित सभी दुकान के व्यापारी और मजदूरों ने अपनी बंद दुकानों के सामने खडे़ होकर मिनी लाकडाउन के विरोध में नारेबाजी की।

    सभी कोरोना के नियमों (Corona Rules) का पालन करते हुए सोमवार से शुक्रवार तक सभी दुकानों को शुरू रखने के लिए अनुमति देने की मांग भी इस समय की गई।

    हजारों मजदूर करते हैं काम

    विगत वर्ष में कोरोना महामारी के लाकडाउन के कारण व्यापारियों का भारी नुकसान हुआ है। उसी तरह दुकानों में काम करनेवाले मजदूरों को भी कठिनाइयों का सामना करना पड़ा है। अनलाक की प्रक्रिया शुरू होने के उपरांत बाजार में अर्थचक्र फिर से शुरू हुआ है। जिसके कारण लोगों की रोजी-रोटी नियमित रूप से शुरू हुई है। इसी दौरान अब कोरोना महामारी की दूसरी लहर के दौरान कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ने के कारण राज्य सरकार ने फिर से मिनी लाकडाउन के नाम पर लाकडाउन जारी किया है। शहर के कपड़ा बाजार, मोची गली में विविध प्रकार के छोटे-बड़े दुकान हैं। इन दुकानों में हजारों मजदूर काम कर अपने परिवार का गुजारा करते हैं।

    कोरोना नियमों का पालन करते हुए अनुमति दें

    राज्य सरकार को जीवनावश्यक वस्तुओं के अलावा अन्य सभी दुकानें बंद कराने का आदेश दिया है। क्या केवल बाजार बंद कर कोरोना की श्रृंखला को तोड़ना संभव होगा क्या? ऐसा सवाल व्यापारियों ने उठाया। उसी तरह सोमवार से शुक्रवार तक कोरोना प्रतिबंध के लिए सभी नियमों का पालन कर दुकान फिर से शुरू रखने की अनुमति देने की मांग की गई है। उसी तरह सरकार के आदेश के अनुसार शनिवार और रविवार को पूरा लाकडाउन करने के लिए सभी व्यापारी अपने दुकान बंद रखनेवाले हैं। ऐसा आंदोलनकर्ताओं ने स्पष्ट किया है।