2 black fungus patients recover in Malegaon, one is undergoing treatment
file

    अकोला. जिले में ब्लैक फंगस के मरीजों में वृध्दि हो रही है. जिले में अब तक 6 मरीजों की मौत होने की जानकारी जीएमसी के सूत्रों ने दी है. ब्लैक फंगस से संबंधित लक्षण पाए जाने पर मरीजों ने तुरंत जांच कर उपचार करवाकर लें. ब्लैक फंगस प्रमुखता से मधुमेह, वृध्द व्यक्ति व पुरानी बीमारी होनेवाले मरीजों को यह बीमारी होती है. कोविड संकट में ब्लैक फंगस के मरीज स्वास्थ्य विभाग के लिए सिरदर्द साबित हो रही है. 

    19 मरीज नागपुर रेफर 

    जीएमसी व जिला सर्वोपचार अस्पताल में अब तक 130 मरीजों पर स्क्रीनिंग की गई है. अब तक करीब 50 से अधिक मरीजों के जबड़ों पर शल्यक्रिया की. इस दौरान दिमाग से संबंधित जटील शल्यक्रिया अकोला में न होने से ऐसे 19 मरीजों को सरकारी मेडिकल कालेज नागपुर में रेफर किया है. जिला सर्वोपचार अस्पताल के कुल 4 वार्ड में ब्लैक फंगस के मरीजों पर उपचार शुरू है. अब तक 19 मरीजों को रेफर किया है. 

    80 मरीज दाखिल

    कोरोना पर मात करने के बाद ब्लैक फंगस के मरीजों का प्रमाण बढ़ने का मेडिकल के सूत्रों की जानकारी है. अब तक जिले में 130 ब्लैक फंगस के मरीजों पर जीएमसी में स्क्रीनिंग की है. जिसमें से 80 से अधिक मरीज अभी अस्पताल में दाखिल है.